सोनी पिक्चर्स डील के बाद ज़ी एंटरटेनमेंट 20% उछला; मीडिया स्टॉक रैली

सोनी पिक्चर्स डील के बाद ज़ी एंटरटेनमेंट 20% उछला; मीडिया स्टॉक रैली
Share

सोनी पिक्चर्स डील के बाद ज़ी एंटरटेनमेंट 20% उछला; मीडिया स्टॉक रैली- भारत के सबसे बड़े सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाले टेलीविजन नेटवर्क सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया प्राइवेट के साथ विलय के लिए सहमत होने के बाद ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के शेयरों ने निफ्टी मीडिया इंडेक्स पर साथियों के बीच सबसे अधिक लाभ प्राप्त किया। बुधवार सुबह 10:15 बजे तक ब्रॉडकास्टर का शेयर 23% चढ़ गया, जो 52-सप्ताह के उच्च स्तर 319.6 रुपये पर पहुंच गया। इसकी तुलना निफ्टी मीडिया इंडेक्स में 10.84% ​​की बढ़त से की जाती है।

एस्सेल समूह के अन्य सभी शेयरों में भी तेजी रही। डिश टीवी इंडिया लिमिटेड को जहां 10%, जी लर्न लिमिटेड में 19.7% की बढ़त हुई। Zee Media Corp. भी 3.2% और 5% के बीच रहा। नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड के शेयरों में ऊपरी सर्किट लगा। शेमारू एंटरटेनमेंट लिमिटेड और इरोज इंटरनेशनल लिमिटेड के शेयरों में भी उछाल आया।

ब्लॉकबस्टर शो

ज़ी एंटरटेनमेंट ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि सोनी पिक्चर्स विकास पूंजी को बढ़ावा देगी और विलय की गई इकाई में बोर्ड के अधिकांश सदस्यों को नामित करेगी। विलय की गई इकाई में सोनी पिक्चर्स के शेयरधारक 52.93% हिस्सेदारी रखेंगे और ज़ी शेयरधारकों के पास 47.07% हिस्सेदारी होगी। सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया के साथ सौदा ज़ी एंटरटेनमेंट के निवेशकों द्वारा पुनीत गोयनका को निदेशक के पद से हटाने सहित शासन संबंधी चिंताओं पर नेतृत्व के लिए बुलाए जाने के बाद हुआ। फाइलिंग में कहा गया है कि गोयनका संयुक्त इकाई के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी बने रहेंगे।

एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में 24.7% की बढ़त की तुलना में इस साल अब तक ज़ी एंटरटेनमेंट का स्टॉक 33.5% बढ़ गया है। रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स 84 पर है, जो दर्शाता है कि स्टॉक ‘ओवरबॉट’ हो सकता है। ब्लूमबर्ग के आंकड़ों के अनुसार, ब्रॉडकास्टर पर नज़र रखने वाले 27 विश्लेषकों में से 18 के पास ‘खरीद’ रेटिंग, सात ‘होल्ड’ और दो ‘सेल’ की सलाह देते हैं। १२-महीने के सर्वसम्मति मूल्य लक्ष्य का औसत १३.२% की गिरावट दर्शाता है। एनालिस्ट व्यूज Elara Capital और Dolat Capital को उम्मीद है कि Zee Entertainment को जल्द ही फिर से रेटिंग मिल जाएगी।

डोलट कैपिटल सोनी हिंदी के सामान्य मनोरंजन खंड में मजबूत है, जहां ज़ी ने अपना आधार खो दिया है। ज़ी फिल्मों और क्षेत्रीय मनोरंजन क्षेत्र में मजबूत है। इस प्रकार, यह प्रसारण, डिजिटल और सामग्री के दृष्टिकोण से एक अच्छा रणनीतिक फिट होगा।

एलारा कैपिटल इन दोनों के विलय से बड़े तालमेल के अवसर हैं, खासकर ओटीटी क्षेत्र में। यदि वे अपने मर्ज किए गए ओटीटी प्रसाद के साथ बाजार में जा सकते हैं, तो वे भारत में डिज्नी+ के बाद दूसरा सबसे बड़ा घरेलू ओटीटी बन सकते हैं। सोनी के पास नियंत्रण हिस्सेदारी होने के साथ, ज़ी में कॉरपोरेट गवर्नेंस पर ओवरहांग मिट जाएगा।

संयुक्त इकाई को लगभग 3,100 करोड़ रुपये का कर पश्चात लाभ हो सकता है। मौजूदा वैल्यूएशन पर भी, कम से कम ज़ी एंटरटेनमेंट के शेयर की कीमत में 80-100% की तेजी की संभावना है।


Share