4 बच्चों और पत्नी की हत्या कर युवक ने फांसी लगाई

Youth hanged after killing 4 children and wife
Share

आरोपी सहित तीन बच्चे फंदे पर लटके मिले, पत्नी और मासूम जमीन पर पड़े थे

मृतकों में सबसे छोटा 4 माह का मासूम

नगर संवाददाता & उदयपुर | जिले में गोगुंदा थाना क्षेत्र के झाड़ोली के गोलनेड़ी गांव में रविवार रात युवक को मानसिक रूप से परेशान एक युवक ने चार बच्चों और पत्नी की हत्या कर खुद फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली। मृतक और उसके तीन बच्चे फंदे पर लटकर रहे थे और इसका सबसे छोटा 4 माह का पुत्र और पत्नी जमीन पर ही मरे पड़े थे। सुबह इस घटना की जानकारी अधिकारियों को मिली तो मौके पर एसपी सहित आला अधिकारी पहुँचे और एफएसएल और डॉग स्क्वायड को बुलाकर साक्ष्य एकत्रित करवाए। पुलिस के अनुसार गोगुन्दा हाईवे से 200 मीटर अंदर झाड़ोली के गोलनेड़ी निवासी प्रकाश (30) पुत्र सोहनलाल गमेती सोमवार सुबह से ही घर से बाहर नहीं निकला और घर का दरवाजा बंद देखकर पास में ही रहने वाला इसका बड़ा भाई दौला ने अंदर जाकर देखा तो प्रकाश गमेती, इसकी पत्नी दुर्गा (27), चार बच्चे 5 वर्षीय गणेश, 4 वर्षीय पुष्कर, 2 वर्षीय रोशन और 4 माह के गंगाराम घर में मरे पड़े थे। प्रकाश गमेती के साथ-साथ इसके बच्चे गणेश, पुष्कर और रोशन के शव तो फंदे से लटके हुए थे और और इसकी पत्नी दुर्गा और चार माह का मासूम गंगाराम घर में ही जमीन पर मरे पड़े थे। यह देखकर दौला घबरा गया और इस बारे में तत्काल पुलिस को बताया। जिस पर मौके पर गोगुन्दा थानाधिकारी योगेन्द्र व्यास पहुँचे, उन्होंने इस बारे में आला अधिकारियों को बताया तो मौके पर डिप्टी भूपेन्द्रसिंह, एएसपी मुख्यालय कुंदन कंवरियां पहुँचे। एक साथ छ: लोगों की मौत की सूचना पर एसपी विकास कुमार शर्मा भी मौके पर पहुँचे और घटना की जानकारी ली। पुलिस ने मौके पर एफएसएल टीम को बुलाया, जिसने मौके से सैंपल इक_े किए, वहीं डॉग स्क्वॉयड भी जांच कर ही है। पुलिस के अनुसार प्रकाश ने अपनी पत्नी साहित चारों बच्चों की हत्या की और इसके बाद वह खुद फांसी पर लटक गया। पुलिस ने बाद में मृतकों के बोर्ड से पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों के सुपुर्द कर दिए।

मानसिक रूप से परेशान था प्रकाश

पुलिस के अनुसार मृतक प्रकाश गमेती पूर्व में अहमदाबाद में खाना बनाने वाले के वहां पर काम करता था और नवरात्रि पर ही गांव आया था। इसके बाद यह नौकरी पर नहीं गया था और गांव में ही रह रहा था। इससे वह आर्थिक रूप से परेशान भी हो गया था, जिससे वह मानसिक रूप से परेशान हो गया था, जिसका वह उपचार भी करवा रहा था। साथ ही देवरों और देवी-देवताओं के वहां पर भी जा रहा था।

पहले मारा, फिर खुद ने  की आत्महत्या

इधर मौका निरीक्षण करने के बाद पुलिस अधिकारियों का कहना है कि प्रकाश ने रात्रि को पहले अपनी पत्नी की गलाघोंट कर हत्या की और इसके बाद चार माह के मासूम को गला घोंट कर मार दिया। इसके बाद एक-एक कर उसने शेष तीनों बच्चों की हत्या की और पत्नी व मासूम को छोड़कर शेष तीनों के शवों को फंदे पर लटकाया और इसके बाद खुद ने भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है कि यदि हत्या के लिए कोई अन्य आया होता था तो घर में शोर शराबा होता और सामान भी बिखरा होता।

पिता और भाई ने भी की थी आत्महत्या

ग्रामीणों ने बताया कि प्रकाश के पिता सोहन लाल गमेती की मौत भी खुदकुशी करने से हुई थी और उसके भाई ने भी जहर खाकर आत्महत्या की थी। पिता और भाई की मौत तीन वर्ष के भीतर ही हुई है।


Share