पीला और केसरिया बाना : गुलाबी नगरी हुई राजपूताना – श्री क्षत्रिय युवक संघ के कार्यक्रम में जुटे देशभर के राजपूत

पीला और केसरिया बाना : गुलाबी नगरी हुई राजपूताना - श्री क्षत्रिय युवक संघ के कार्यक्रम में जुटे देशभर के राजपूत
Share

जयपुर (प्रात:काल संवाददाता)। राजस्थान के श्री क्षत्रिय युवक संघ के 75 वर्ष पूर्ण होने पर बुधवार को जयपुर में हीरक जयंती समारोह आयोजित हुआ। जिसके चलते पूरी गुलाबी नगरी केसरिया रंग में रंगी नजर आई। समारोह के जरिए राजपूत समाज ने जहां राजनीतिक ताकत दिखाई वहीं अनुशासन का पाठ पढ़ाने वाले संगठन के बहाने एकजुटता का संदेश भी दिया। राजधानी के सीकर रोड स्थित भवानी निकेतन में आयोजित इस कार्यक्रम में बीजेपी और कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों से जुड़े राष्ट्रीय स्तर के नेताओं ने शिरकत की। देश और प्रदेशभर से बड़ी संख्या में राजपूत समाज के लोग इस समारोह में शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान हेलिकॉप्टर से फूलों की बारिश की गई।

हीरक जयंती समारोह में राजपूत समाज के लोगों के लिए विशेष गणवेश भी रखी गई थी। पुरुषों ने जहां केसरिया साफा बांध रखा था। वहीं महिलाएं पीली और केसरिया राजपूती पोशाक में पहुंची थीं। सभा स्थल में 20,000 से क्षत्रिय संघ के स्वयंसेवकों के साथ 400 पुलिसकर्मी, 40 डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ की टीम तैनात रही।

क्षत्रिय युवक संघ के पीछे एक शख्स को याद किया जाता है। वो हैं तनसिंह। उन्होंने तनसिंह ने ही आज से 75 साल पहले समाज को संगठित और संस्कारित करने की ठानी थी। कॉलेज में पढऩे के दौरान ही तनसिंह ने 1944 में राजपूत छात्रावस में दिवाली के दिन क्षत्रिय युवक संघ की स्थापना की। जिसके बाद 5 और 6 मई 1945 को इसका पहला अधिवेशन जोधपुर में हुआ था।

दग्गज नेताओं ने मंच साझा किया : कई समाजों के प्रतिनिधि इस हीरक जयंती समारोह में शामिल हुए। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, जयपुर सांसद रामचरण बौहरा, सांसद कुमारी सांसद, सीपी जोशी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, मंत्री भंवर सिंह भाटी, सुखराम बिश्नोई, विधायक नरपत सिंह राजवी, गिर्राज सिंह मलिंगा, चंद्रभान सिंह आक्या, रुपाराम धनदे, रुपाराम मुरावतिया, पदमाराम मेघवाल, मेवाराम जैन, अभिनेश महर्षी, पूर्व विधायक रणवीर सिंह गुढा, रणधीर सिंह भिंडर, सुखदेव गोगामेडी, ज्योति खंडेलवाल भी कार्यक्रम में मौजूद रही।

पहली बार किसी कार्यक्रम में पूरी ट्रेन हुई बुक

आयोजन समिति ने बताया कि इस समारोह के लिए जैसलमेर से 24 कोच की ट्रेन की बुकिंग करवाई गई है। इसके लिए संघ की ओर से बतौर किराया रेलवे को 30 लाख रुपए जमा करवाए गए हैं। इस ट्रेन के जरिए समाज के लोग जयपुर पहुंचेंगे। आयोजकों का दावा है कि यह पहली बार है राजस्थान में किसी सामाजिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए 24 कोच की पूरी ट्रेन बुक करवाई गई है। यह ट्रेन मंगलवार रात को जैसलमेर से रवाना होकर बुधवार को सुबह जयपुर पहुंची। वहीं सभा खत्म होने के बाद आज शाम 6 बजे ट्रेन जयपुर से वापिस रवाना होकर गुरुवार को जैसलमेर पहुंचेगी।


Share