महिला हॉकी टीम ने 16 साल बाद किया कमाल, कॉमनवेल्थ में पहली बार जीता ब्रॉन्ज

महिला हॉकी टीम ने 16 साल बाद किया कमाल, कॉमनवेल्थ में पहली बार जीता ब्रॉन्ज
Share

बर्मिंघम (एजेंसी)। भारतीय महिला हॉकी टीम ने बर्मिंघम में जारी कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में कमाल का प्रदर्शन किया। सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया से हारने के बाद भारत के पास ब्रॉन्ज मेडल जीतने का मौका था और भारतीय लड़कियों ने ये कर दिखाया। भारतीय महिला हॉकी टीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स में पहली बार ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है। कांस्य पदक के मैच में भारतीय टीम ने शूटआउट में न्यूजीलैंड को हरा दिया।

भारत ने न्यूजीलैंड के साथ मुख्य मुकाबला 1-1 से ड्रॉ खेला। ऐसे में मैच का नतीजा शूटआउट के जरिए निकाला गया, जहां भारत ने बाजी मारी। भारत ने शूटआउट में 2-1 से जीत हासिल की और इसी के साथ कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने तीसरी बार पदक जीतने में सफलता हासिल की।

भारत के लिए एकमात्र गोल सलीमा टेटे ने किया, जब उन्होंने हाफ टाइम से पहले दूसरे क्वार्टर के 14वें मिनट में गोल किया और भारत को 1-0 की बढ़त दिलाई, जो आखिर तक बनी रही। यहां तक कि न्यूजीलैंड की टीम ने आखिरी के चार मिनट में अपने गोलकीपर को हटा दिया था, लेकिन भारत गोल नहीं कर पाया, जबकि पेनल्टी कार्नर के जरिए कीवी टीम ने आखिरी मिनट में गोल किया और मुकाबला शूटआउट तक पहुंचाया। भारत इससे पहले गोल्ड और सिल्वर मेडल जीता है, लेकिन 16 साल के बाद पहली बार कोई पदक भारतीय महिला हॉकी टीम जीतने में सफल हुई है। बता दें कि पिछले साल टोक्यो में हुए ओलंपिक खेलों में भारत को सेमीफाइनल के बाद कांस्य पदक मुकाबले में भी हार का सामना करना पड़ा था।


Share