क्या राहुल दूबारा बनेंगें कांग्रेस अध्यक्ष

क्या राहुल दूबारा बनेंगें कांग्रेस अध्यक्ष
Share

कोविड़ -19 महामारी के बाद सोनिया ने कल पार्टी के नेताओं की एक बैठक बुलायी जिसका हिस्सा असंतुष्ट गुट के सात नेता थे। सोनिया गांधी,प्रियंका गांधी व राहुल गांधी सहित 19 नेता मीटिंग में उपस्थित थे।

कल सोनिया गांधी के आवास पर बुलायी गई एक बैठक में  राहुल ने कांग्रेस अध्यक्ष  रूप में अपनी वापसी के संकेत दिये थे। सोनिया ने पार्टी नेताओं से एक परिवार के रूप में अपील की। अगर असंतुष्ट नेताओं के विवाद का अगर कोई हल नहीं निकला तो अन्य बैठकों की संभावनायें हैं।

सोनिया ने कहा, “हम एक परिवार  हैं और हमको मिलकर पार्टी को मजबूत बनाना है।” असंतुष्ट नेताओं ने भी उस पर अपना पक्ष व्यक्त किया।

राहुल ने कहा कि पार्टी जिम्मेदारी को वे पूरा करेंगे।जब नेताओं ने उन्हें अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने को कहा, तो राहुल ने जवाब दिया कि अभी इस मुद्दे को छोड़ देना बेहतर होगा।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने कहा कि राहुल को उस पार्टी का नेतृत्व करना चाहिए जिसका समर्थन अन्य नेताओं ने किया था, जबकि विवेक तन्खा ने कहा कि उन्होंने खुद इस्तीफा दे दिया जब वायनाड के सांसद ने 2019 की विनाशकारी हार के बाद पद से इस्तीफा दे दिया। तन्खा ने कहा कि उन्हें राहुल के नेतृत्व में पूरा विश्वास है। राहुल ने वरिष्ठ नेताओं को पार्टी के लिए महत्वपूर्ण बताया। बैठक में मौजूद नेताओं ने कांग्रेस पर भरोसा जताया व कहा कि उन्हें पार्टी के नेतृत्व पर विश्वास है।

बैठक में सोनिया ने बीजेपी को हराने की रणनीति बनाने के लिए एक ‘चिंतन शिविर’ (बुद्धिशीलता सत्र) आयोजित करने की बात की और जनता को मोदी सरकार की विफलताओं के बारे में बताएंगें।संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला भी बैठक में शामिल नहीं थे।


Share