वार्मअप मैच: भरत ने नाबाद अर्धशतक लगाकर संभाला, भारत ने पहले दिन बनाए 246 रन, वार्म-अप मैच खेलने उतरी टीम इंडिया का ढोल नगाड़ों के साथ स्वागत

Warm-up match: Bharat took over with an unbeaten half-century, India scored 246 runs on the first day, Team India came out to play the warm-up match, welcomed with drums
Share

लंदन (एजेंसी)। टीम इंडिया को 1 जुलाई से बर्मिंघम में इंग्लैंड से टेस्ट मैच खेलना है। उससे पहले, भारतीय टीम लीस्टरशायर के खिलाफ अभ्यास मैच खेल रही है। लेकिन, पहले ही इम्तेहान में भारत के टॉप ऑर्डर का दम निकल गया। कप्तान रोहित शर्मा, शुभमन गिल, श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी सस्ते में पवेलियन लौट गए। इस मैच में रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। केएल राहुल की गैरहाजिरी में शुभमन गिल ने उनके साथ पारी की शुरुआत की। गिल ने शुरुआत में कुछ अच्छे शॉट्स खेले तो उनसे बड़ी पारी की उम्मीद जग गई। लेकिन फिर विल डेविस की गेंद पर एक खराब शॉट खेलकर पंत के हाथों कैच आउट हो गए। बारिश के कारण पहले दिन का खेल जल्दी खत्म कर दिया गया है। भारत ने तब तक 60।2 ओवर में 8 विकेट पर 246 रन बना लिए थे। कोहली 69 गेंद पर 33 रन बनाकर आउट हुए। केएस भरत 70 और मोहम्मद शमी 18 रन बनाकर खेल रहे हैं। भरत ने कोहली और उमेश यादव के साथ अर्धशतकीय साझेदारी करके टीम को संभाला। उमेश ने 32 गेंद पर 23 रन बनाए। तेज गेंदबाज रोमन वॉल्कर ने अब तक 8 में से 5 विकेट झटके हैं। गिल जिस गेंद पर आउट हुए, वो ऑफ स्टम्प से काफी बाहर की तरफ थी और उस पर शॉट खेलने के चक्कर में उन्हें अपना विकेट गंवाना पड़ा। यह पहला मौका नहीं है, जब गिल इस तरह से आउट हुए हैं। वो बार-बार इसी तरह की गलती दोहराकर अपना विकेट गंवा रहे हैं।

रोहित ने भी पुरानी गलती दोहराई

गिल की तरह ही रोहित शर्मा ने भी अच्छी शुरुआत की थी। लेकिन, वो भी अभ्यास मैच में बड़ी पारी खेलने से चूक गए। रोहित शॉर्ट गेंद के अच्छे खिलाड़ी माने जाते हैं। लेकिन, बीते कुछ समय से वो शॉर्ट गेंद पर पुल करने के चक्कर में अपना विकेट गंवा रहे हैं। लीस्टरशायर के खिलाफ प्रैक्टिस मैच में भी कुछ ऐसा ही हुआ। रोहित ने रोमन वॉल्कर की एक शॉर्ट गेंद पर पुल शॉट मारने की कोशिश की। लेकिन, गेंद उनके बल्ले पर ठीक से नहीं आई और हवा में चली गई, अबीदीन स्कंदे ने रोहित का कैच पकडऩे में कोई गलती नहीं। इस तरह भारतीय कप्तान 25 रन बनाकर आउट हो गए।

विहारी भी खराब शॉट खेलकर आउट हुए

रोहित के बाद टीम के संकटमोचक माने जाने वाले हनुमा विहारी भी चलते बने। उन्होंने 3 रन बनाए। उन्हें भी रोमन वॉल्कर ने ही अपना शिकार बनाया। वॉल्कर की ऑफ स्टम्प से बाहर जाती गेंद को विहारी ने ड्राइव करना चाहा। लेकिन, गेंद उनके बल्ले का किनारा लेते हुए सीधे स्लिप में तैनात सैम बैट्स के पास गई और उन्होंने बड़ी आसानी से कैच लपक लिया। इसके बाद श्रेयस अय्यर आउट हुए। उन्होंने 11 गेंद का सामना किया। लेकिन खाता तक नहीं खोल पाए। उन्हें प्रसिद्ध कृष्णा ने विकेट के पीछे पंत के हाथों कैच आउट करवाया। इसके बाद रवींद्र जडेजा भी 13 गेंद में 13 रन बनाकर आउट हो गए। भारत के पांच विकेट 81 रन पर ही गिर गए। कोहली अपने रंग में दिखाई दे रहे थे, लेकिन वॉकर की गेंद को खेलने से चूक गए। अंपायर ने जोरदार अपील के बाद विराट को एलबीडब्ल्यू आउट दे दिया। इस पर कोहली नाराज हो गए और अंपायर से भिड़ गए। अंपायर ने उन्हें आउट देने का कारण बताया। इसके बाद वह पवेलियन लौटे। कोहली ने केएस भरत के साथ छठे विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी की।

उमेश ने दिया भरत का साथ

शार्दुल ठाकुर के रूप में टीम इंडिया का सातवां झटका। सात रन बनाकर शार्दुल वॉकर की गेंद पर बोल्ड हो गए। वॉकर के इस पारी में पांच विकेट हो गए हैं। टीम इंडिया को आठवां झटका उमेश यादव के रूप में लगा। उमेश 32 गेंद पर 23 रन बनाकर विल डेविस की गेंद पर आउट हो गए। उन्होंने भरत के साथ आठवें विकेट के लिए 66 रनों की साझेदारी की। उमेश ने अपनी पारी में चार चौके लगाए।

लिसेस्टशायर के लिए क्यों खेल रहे हैं भारतीय खिलाड़ी

भारत के चार खिलाडिय़ों को लिसेस्टशायर की टीम में इस वजह से शामिल किया गया है ताकि सभी भारतीय खिलाडिय़ों को अभ्यास करने का पूरा मौका मिल सके। अगर टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी एक ही टीम से खेलते तो कुछ को बल्लेबाजी या गेंदबाजी कम मिलती।

इस स्थिति से बचने के लिए भारत के चार खिलाडिय़ों को विपक्षी टीम में डाल दिया गया है। इससे सभी खिलाडिय़ों के पास अभ्यास का भरपूर मौका रहेगा। जिन चार खिलाडिय़ों को लिसेस्टशायर की टीम में शामिल किया गया है उनमें प्रसिद्ध कृष्णा के मुख्य मैच में खेलने पर संदेह है। उनके अलावा बाकी तीनों खिलाडिय़ों का एक जुलाई से पहला टेस्ट मैच खेलना लगभग तय है।

1 जुलाई से खेला जाना है महामुकाबला

भारत और इंग्लैंड के बीच 1 जुलाई से बर्मिंघम में टेस्ट मैच खेला जाना है। यह वही टेस्ट है जो पिछले साल कोरोना के कारण स्थगित हो गया था। जब सीरीज रुकी थी तो भारत 2-1 से आगे था। अगर यह मैच टीम इंडिया जीत जाती है तो 2007 के बाद पहली बार टीम इंग्लैंड में कोई टेस्ट सीरीज जीतेगी। यानी टीम के पास 15 साल बाद इतिहास रचने का मौका होगा।

मैच में भारतीय टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की। जब दोनों टीमें मैदान पर उतरी तो उनका जोरदार स्वागत किया गया। खिलाडिय़ों एवं अंपायर का का स्वागत मैदान में ढोल नगाड़े बजाते हुए किया गया। भारतीय कलाकारों ने शानदार डांस किया और तिरंगा लहराया। इसका वीडियो बीसीसीआई ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है। वीडियो में देख सकते हैं कि कलाकारों ने भारतीय वेशभूषा पहनकर डांस कर रहे हैं और पूरे जोश के साथ टीमों का स्वागत कर रहे हैं।


Share