मोहाली में अभ्यास के दौरान प्रशंसकों के शोर से विराट परेशान, सुरक्षाबलों से की शिकायत

मोहाली में अभ्यास के दौरान प्रशंसकों के शोर से विराट परेशान, सुरक्षाबलों से की शिकायत
Share

चंडीगढ़ (एजेंसी)।  श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम के खिलाडिय़ों की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। पूर्व कप्तान विराट कोहली भी अपने 100वें टेस्ट मैच को यादगार बनाने के लिए नेट पर अभ्यास करने उतरे हैं। रविवार को विराट कोहली ने मोहाली स्थित पीसीए स्टेडियम में 2 घंटे तक अभ्यास किया। उनके साथ ऋषभ पंत ने भी नेट पर बल्लेबाजी की। जब विराट अभ्यास कर रहे थे, ठीक उसी समय गेट नंबर 9 के बाहर उनके कुछ प्रशंसक पहुंच गए और विराट-विराट चिल्लाने लगे। इस पर विराट का बार-बार ध्यान भंग हो रहा था।

कोहली ने वहां उपस्थित सुरक्षाकर्मियों को बुलाया। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने गेट के बाहर खड़े प्रशंसकों को वहां से भगाया। यह प्रशसंक अपने पसंदीदा खिलाड़ी की एक झलक पाने के लिए खासे उत्साहित थे लेकिन इस बार बॉयो बबल के नियम इतने सख्त हैं कि कोई भी खिलाडिय़ों के नजदीक नहीं पहुंच सकता।

दोपहर 12.30 बजे नेट पर पहुंचे

विराट कोहली व ऋषभ पंत दोपहर 12.30 बजे भारतीय टेस्ट टीम के खिलाडिय़ों के साथ अभ्यास करने पहुंचे। उन्होंने पहले मैदान पर दौड़ लगाकर वार्मअप किया। कोहली ने फिजियो के साथ कुछ समय स्पीड रनिंग की। इसके बाद नेट पर पहुंच गए। वहां पर सबसे पहले भारतीय टीम के गेंदबाज मोहम्मद शमी से गले मिले। उसके बाद उमेश यादव, जयंत यादव, शुभमन गिल से भी मिले। कुद देर शुभमन गिल से बातचीत की। बाद में विराट ने बल्ले के साथ थ्रो बॉल पर शॉट्स लगाने का अधिक अभ्यास किया। वहीं पंत पीसीए के स्थानीय गेंदबाजों की गेंदों पर लंबे-लंबे शॉट लगाने का अभ्यास कर रहे थे।

सुबह 9 बजे स्टेडियम में पहुंचे अश्विन, शुभमन गिल, हनुमा विहारी

भारतीय टीम के रविचंद्रन अश्विन, शुभमन गिल, सौरभ कुमार सहित हनुमा विहारी सुबह 9 बजे ही अभ्यास के लिए स्टेडियम पहुंच चुके थे। सब ने पहले मैदान में हल्का अभ्यास किया। उसके बाद नेट की ओर रुख किया। नेट पर हनुमा विहारी, जयंत यादव, सौरभ कुमार तथा अन्य खिलाडिय़ों ने तकरीबन तीन घंटे तक अभ्यास किया। स्थानीय स्पिनरों तथा तेज गेंदबाजों की गेंदों पर शुभमन गिल शॉट लगाते हुए दिखाई दिए। इसके बाद शुभमन गिल ने कैच की भी प्रैटिक्स की।

सात वर्षों में बतौर खिलाड़ी विराट का पहला मैच

वर्ष 2015 से भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी संभालते आए विराट के लिए पिछले सात वर्षो के भीतर यह पहला ऐसा मौका होगा, जब वह टीम के सदस्य खिलाड़ी के तौर पर टेस्ट खेलने उतरेंगे। खास बात है कि इस बार मैच बिना दर्शकों के होने जा रहा है। ऐसे में विराट का फोकस अपनी बल्लेबाजी पर सबसे अधिक होगा। श्रीलंकाई टीम के सदस्यों ने होटल में रुककर एकांतवास पूरा किया। संभावना है कि मेहमान सोमवार को अभ्यास सत्र के लिए स्टेडियम पहुंचेंगे।


Share