अकेले पड़े विराट > बीसीसीआई ने दावा किया खारिज

Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। विराट कोहली ने बुधवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उनसे टी-20 कप्तानी नहीं छोडऩे का अनुरोध नहीं किया था। बीसीसीआई ने विराट कोहली के सनसनीखेज दावे को खारिज कर दिया है। बीसीसीई के एक अधिकारी ने बताया कि बोर्ड ने सितंबर में विराट कोहली से बात की थी और उनसे कप्तानी नहीं छोडऩे का अनुरोध किया था। इसके अलावा विराट को वनडे कप्तानी के मामले में भी लूप में रखा गया था।

विराट के खुलासे के बाद बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा,विराट कोहली यह नहीं कह सकते कि हमने उन्हें लूप में नहीं रखा। हमने सितंबर में विराट से बात की थी और उन्हें टी- 20 कप्तानी नहीं छोडऩे के लिए कहा था। जब विराट ने टी- 20 कप्तानी छोड़ दी, तो सफेद गेंद के 2 कप्तान बनाना मुश्किल था। बैठक की सुबह चेतन शर्मा ने विराट को वनडे कप्तानी के बारे में बताया था

विराट ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में खुलासा किया कि 8 दिसंबर को टेस्ट सीरीज के लिए चयन बैठक से डेढ़ घंटा पहले मेरे साथ संपर्क किया गया और इससे पहले टी-20 कप्तानी को लेकर मेरे फैसले की घोषणा के बाद से मेरे साथ कोई संपर्क नहीं किया गया था। मुख्य चयनकर्ता ने टेस्ट टीम पर चर्चा की जिस पर हम दोनों सहमत थे। बात खत्म करने से पहले मुझे बताया गया कि पांच चयनकर्ताओं ने फैसला किया है कि मैं वनडे का कप्तान नहीं रहूंगा जिस पर मैंने कहा ठीक है, कोई बात नहीं।


Share