हिंसक हो उठा मिजोरम से सीमा विवाद- असम पुलिस के 6 जवान शहीद

सीआरपीएफ टीम पर आतंकी हमला, 2 जवान शहीद
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। पूर्वोत्तर के दो राज्यों असम और मिजोरम के बीच सीमा पर जारी हिंसा में असम पुलिस के छह जवान शहीद हो गए हैं। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने ट्विट करते हुए कहा मुझे यह सूचित करते हुए बहुत दुख हो रहा है कि असम-मिजोरम सीमा पर हमारे राज्य की संवैधानिक बॉर्डर की रक्षा करते हुए असम पुलिस के 6 बहादुर जवानों ने अपने प्राणों की आहुति दे दी है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना।

बता दें कि असम के मुख्यमंत्री ने सोमवार को मिजोरम के अपने समकक्ष जोरमथांगा से पूर्वोत्तर के दो राज्यों के बीच सीमा पर जारी हिंसा को लेकर बात की और मतभेदों को दूर करने के लिए आइजोल के दौरे का प्रस्ताव रखा है। दोनों मुख्यमंत्री ट्विटर पर आमने-सामने हो गए थे, जब उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से शिकायत की थी, जिन्होंने शनिवार को शिलांग में पूर्वोत्तर राज्यों के बीच सीमा विवाद पर एक बैठक की थी।

सरमा ने मिजोरम के सीएम से की बात

सरमा ने ट्वीट किया, मैंने अभी माननीय मुख्यमंत्री जोरमथांगा जी से बात की। मैंने दोहराया कि असम हमारे राज्य की सीमाओं के बीच यथास्थिति और शांति बनाए रखेगा। मैंने आइजोल जाने और जरूरत पडऩे पर इन मुद्दों पर चर्चा करने की इच्छा व्यक्त की है। शुरूआत में असम पुलिस ने दावा किया कि दिन के दौरान कछार जिले में मिजोरम की ओर से उपद्रवी तत्वों द्वारा किए गए पथराव में उसके कम से कम छह कर्मी घायल हो गए हैं, लेकिन अब खुद मुख्यमंत्री ने छह जवानों की मौत की बात कही है।

सैकड़ों उपद्रवियों ने पुलिस जवानों पर किया था हमला

असम की ओर के स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि लाठी, रॉड और यहां तक कि राइफलों से लैस होकर आए सैकड़ों उपद्रवियों ने लैलापुर में असम पुलिस के कर्मियों पर हमला किया और उपायुक्त के कार्यालय से संबंधित वाहनों सहित कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। उनमें से कुछ ने दावा किया कि उपद्रवियों ने असम पुलिस कर्मियों पर गोलियां चलाई, लेकिन इसकी तुरंत पुष्टि नहीं हो पाई थी। लेकिन अब खुद मुख्यमंत्री ने असम पुलिस के छह जवानों के मौत की पुष्टि की है।

जून से सीमा पर जारी है तनाव

जून से मिजोरम-असम की सीमा पर तनाव जारी है, जब असम पुलिस ने वायरेंगटे से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित ऐटलांग हनार इलाके पर कथित तौर पर नियंत्रण कर लिया और पड़ोसी राज्य पर इसकी सीमा का अतिक्रमण करने का आरोप लगाया था। आज हुई हिंसा को लेकर मिजोरम के पुलिस उप महानिरीक्षक (उत्तरी रेंज) लालबियाकथांगा खियांगते ने बताया कि घटना अशांत क्षेत्र में एटलांग धारा के पास रात करीब साढ़े 11 बजे हुई। उन्होंने कहा कि ये गांव वैरेंगटे के किसानों के थे, जो असम का निकटतम सीमावर्ती है।


Share