वसुंधरा की धार्मिक यात्रा ने भाजपा में मचाई हलचल

वसुंधरा की धार्मिक यात्रा ने भाजपा में मचाई हलचल
Share

‘क्लास लेने आ रहे शाह ?

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में हाल ही में हुए उपचुनाव में भाजपा को दोनों सीटों पर हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद यहां पर भाजपा फिर से अपनी राजनीतिक गतिविधियां शुरू कर दी हैं। पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया राजनीतिक यात्रा शुरू कर चुकी हैं। हालांकि अंदरखाने भाजपा वसुंधरा राजे सिंधिया की इस यात्रा से खुश नहीं है। वैसे खुद वसुंधरा राजे कह चुकी हैं कि उनकी यह यात्रा राजनीतिक यात्रा नहीं है।लेकिन उनकी यात्रा के दौरान हुए आयोजन कुछ और ही इशारा कर रहे हैं। अब पार्टी कार्यकर्ताओं की अनुशासन की क्लास लेने खुद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पहुंच रहे हैं। 5 दिसंबर को जयपुर में शाह 10 हजार से अधिक जनप्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे।

धार्मिक यात्रा में राजे ने जुटाया जनसमर्थन

वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे अपनी धार्मिक यात्रा के लिए आज अजमेर जिले के किशनगढ़ में सलेमाबाद पहुंचीं। वसुंधरा राजे ने सलेमाबाद में निम्बार्काचार्य पीठ के दर्शन कर श्रीजी महाराज श्यामदेवाशरण जी से मुलाकात कर उनका आशीर्वाद लिया। सलेमाबाद यात्रा के साथ ही राजे की धार्मिक यात्रा पूरी हो गई। उल्लेखनीय है कि राजे को उनकी धार्मिक एवं सांत्वना यात्रा के दौरान व्यापक जनसमर्थन मिला है। वे अपने ऐतिहासिक शानदार स्वागत से गदगद हैं। वहीं कहा जा रहा है कि इस यात्रा के जरिए राजे खुद को सीएम फेस के तौर पर सबसे आगे दिखाना चाहती हैं। इस बात ने पार्टी के अंदर गुटबाजी को बढ़ावा दिया है। आंतरिक तौर पर पार्टी नेताओं में राजे की इस यात्रा को लेकर काफी रोष है। अब माना जा रहा है कि अमित शाह अपने संबोधन के दोरान पार्टी कार्यकर्ताओं को एकजुट करने की कोशिश करेंगे।

शुरू हो गई है तैयारी

अमित शाह के दौरे को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां एवं प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर ने आज पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों के साथ बैठक की एवं दिशा-निर्देश दिए।  डॉ. पूनियां ने मीडिया से बातचीत में बताया कि अमित शाह का व्यक्तत्वि इतना विराट है कि उनको देखने-सुनने के लिए देशभर में बड़ी संख्या में लोग आते हैं। इसी तरह जयपुर में भी भारी संख्या में कार्यकर्ताओं एवं आमजन का जनसैलाब उमड़ेगा।

सांसद-विधायक भी होंगे शामिल

पूनियां ने कहाकि यह कार्यक्रम भव्य और विशाल होगा जिसको लेकर सभी कार्यकर्ता उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि, अमित शाह के जयपुर दौरे व उनके ओजस्वी सम्बोधन से कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ेगा और नई ऊर्जा का संचार होगा। गौरतलब है कि अमित शाह पांच दिसंबर को जयपुर में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति बैठक को संबोधित करेंगे। इसके बाद वह 10 हजार से अधिक जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसमें सांसद, विधायक, पंचायत समिति सदस्य, प्रधान, उपप्रधान, जिला प्रमुख, उप जिला प्रमुख इत्यादि जनप्रतिनिधि शामिल होंगे।


Share