वल्लभनगर : सरकारी स्कूल के दो अध्यापकों ने की बालिकाओं के साथ छेड़छाड़, गुस्साएं परिजनों और ग्रामीणों ने कर दी धुनाई

Vallabhnagar: Two teachers of government school molested girls, angry relatives and villagers beat them up
Share

पुलिस ने किया गिरफ्तार, विभाग ने किया निलम्बित : विधायक प्रीति पहुंची विद्यालय, अधिकारियों को लगाई फटकार

नगर संवाददाता . उदयपुर। जिले के वल्लभनगर उपखंड क्षेत्र के तारावट गांव स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में दो अध्यापकों द्वारा कक्षा 6-7 की बालिकाओं के साथ छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। मामले के सामने आने पर ग्रामीणों ने विद्यालय में जाकर जोरदार हंगामा किया और दोनों शिक्षकों की जमकर धुनाई कर दी। मामले के तूल पकडऩे पर मौके पर पुलिस पहुँची और दोनों अध्यापकों को हिरासत में लिया गया। घटना के बाद दोनो अध्यापकों को निलम्बित कर दिया है। वहीं सूचना पर वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई है और सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए है।

जानकारी के अनुसार राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय तारावट में पढऩे वाली कक्षा 6 और 7 की बालिकाओं के साथ इसी विद्यालय में काम करने वाले दो अध्यापक नागौर निवासी अय्यूब अली व वल्लभनगर निवासी किशनलाल आमेटा द्वारा छेड़छाड़ व अश्लील हरकतें की जा रही थी। कई दिनो से अध्यापकों द्वारा की जा रही अश्लील हरकतों और छेड़छाड़ से परेशान होकर बच्चियों ने अपने घर पर जाकर परिजनों को बताया। इस पर परिजनों में आक्रोश व्याप्त हो गया और शनिवार को परिजनों के साथ-साथ ग्रामीण भी विद्यालय में पहुँच गए और हंगामा खड़ा कर दिया। परिजनों को देखकर आरोपी अध्यापक इधर-उधर छिपने लगे, जिन्हें परिजनों ने पकड़कर जमकर धुनाई कर दी। हंगामा बढ़ता हुआ देखकर स्कूल प्रबंधन की ओर से पुलिस को सूचना दी। सूचना पर थानाधिकारी देवेन्द्र सिंह के नेतृत्व में भारी जाब्ता स्कूल में पहुँचा और परिजनों व ग्रामीणों के कब्जे से दोनों अध्यापकों को निकालकर हिरासत में लिया। इधर इस घटना की जानकारी पर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी महेंद्र कुमार जैन सहित अन्य अधिकारी भी तारावट स्कूल में पहुँचे, जिन्हें भी परिजनों व ग्रामीणों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। गुस्साए ग्रामीणों ने परिजनों के साथ वल्लभनगर थाने में भी धरना प्रदर्शन किया। सूचना पर मौके पर वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत भी पहुँची। विधायक ने पीडि़त बालिकाओं के घर जाकर उनसे मुलाकात करते हुए पूरी जांच पड़ताल की। इसके बाद विधायक ने तारावट स्कूल में जाकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों को जमकर लताड़ लगाई। विधायक ने ब्लॉक शिक्षा अधिकारी महेंद्र कुमार जैन को प्रधानाध्यापक सहित दोनों अध्यापकों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। विधायक ने शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों से बात कर तत्काल प्रभाव से स्कूल का स्टाफ बदलने एवं दोषी अध्यापकों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके बाद ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने दोनों अध्यापकों अयूब अली व किशनलाल आमेटा को तुरंत निलंबित करने के आदेश जारी किए। वही निलंबन अवधि में दोनों अध्यापकों को झल्लारा ब्लॉक में लगाया गया। वहीं प्रधानाचार्य रामलाल तेली ने प्रकरण को छुपाने पर भी विधायक ने आक्रोश जताया और कार्यवाही नहीं करने पर शिक्षा विभाग ने उच्च स्तर पर जांच शुरू कर दी है। बालिकाओं के परिजनों ने थाने में मामला दर्ज करवाया। इस पर वल्लभनगर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया और जांच डिप्टी के सुपुर्द की है।

थाने पहुंची विधायक, पुलिस अधिकारियों को दिए निर्देश

विधायक प्रीति शक्तावत तत्काल वल्लभनगर थाने पहुंची, जहां पर डिप्टी रविंद्र प्रताप सिंह एवं थानाधिकारी देवेंद्र सिंह राठौड़ को कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए। इसी बीच शक्तावत ने थाने के बाहर विरोध कर रहे लोगों को भी विधायक ने दोषियों को सजा दिलाने का आश्वासन दिया।


Share