राजस्थान में फिर वैक्सीन की कमी -कल वैक्सीनेशन बंद : गहलोत बोले- हमारे पास आज तक की ही डोज बची

कोरोना वैक्सीनेशन के बारे में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए: मुख्यमंत्री
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। सभी एजग्रुप के लोगों को फ्री वैक्सीनेशन शुरू करने के बाद राजस्थान में एक बार फिर वैक्सीन डोज की कमी हो गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हमाारे पास केवल आज तक की ही वैक्सीन बची है। वैक्सीन डोज नहीं आए तो कल से हमें सेंटर बंद करने पड़ेंगे। गहलोत ने कहा कि भारत सरकार को यह समझना पड़ेगा कि राजस्थान का मामला अन्य राज्यों से अलग है। सेकेंड डोज का टाइम आ गया है। राजस्थान को 22.22 करोड़ वैक्सीन डोज मिली हैं, जिसमें से 2.21 करोड़ लगा चुके हैं। गहलोत बीकानेर में स्वास्थ्य सेवाओं के वर्चुअल लोकार्पण समारोह में बोल रहे थे।

गहलोत ने कहा कि राजस्थान ने 15 लाख डोज रोज लगाने की तैयारी कर रखी है। वैक्सीनेशन को गति देना बहुत जरूरी है। पहला डोज नहीं लगाएंगे तो लोग हल्ला करेंगे। जुलाई में 75 लाख डोज बकाया हो जाएगा। जुलाई में हमें 1.50 करोड़ डोज चाहिए। वैक्सीनेशन समय पर कैसे लगें यह सरकारों का फोकस होना चाहिए। दूसरे फेज में प्र.म. ने जो फैसले किए इससे राज्यों पर आने वाला भार खत्म हो गया। इससे वेक्सीनेशन प्रोग्राम अच्छे ढंग से कर पाएंगें।

अर्जुन मेघवाल से बोले- राजस्थान की पैरवी करनी होगी

गहलोत ने केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल से कहा कि अर्जुन मेघवालजी आपको राजस्थान का वकील बनकर केंद्र में प्रदेश की पैरवी करनी पड़ेगी। आप साइकिल लेकर स्वास्थ्य मंत्री के पास जाइए, तभी बात बनेगी। राजस्थान को ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन चाहिए और वह समय पर मिले। राजस्थान वैक्सीनेशन में अग्रणी रहा है। वैक्सीनेशन में राजस्थान के लोगों ने साथ दिया। सर्वे के मुताबिक राजस्थान में बहुत कम लोग वैक्सीन लगाने से मना कर रहे हैं।


Share