यूपी लोकसभा उपचुनाव, आजमगढ़ से सपा ने दलित चेहरे पर खेला दांव

Share

लखनऊ (एजेंसी)। समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से लोकसभा उपचुनाव में दलित चेहरे पर दांव खेला है। सपा ने आजमगढ़ से सुशील आनंद को उम्मीदवार बनाया है। बताया जा रहा है कि सुशील आनंद बामसेफ के संस्थापक सदस्यों में रहे बलिहारी बाबू के बेटे हैं।

अखिलेश के इस्तीफे के बाद खाली हुई आजमगढ़ सीट

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव 2019 लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ से सांसद चुने गए थे। हालांकि, उन्होंने यूपी विधानसभा चुनाव में मैनपुरी जिले की करहल सीट से विधानसभा चुनाव लड़ा था। इसमें उन्होंने जीत हासिल की थी। इसके बाद अखिलेश यादव ने आजमगढ़ की लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। अखिलेश यादव यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं।

बसपा में शामिल थे बलिहारी बाबू

बलिहारी बाबू ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन की थी। लंबे समय तक बामसेफ और फिर बसपा के साथ रहे थे, लेकिन कोरोना काल में उनका निधन हो गया था। समाजवादी पार्टी ने इसे देखते हुए दलित दांव खेला है क्योंकि मायावती ने अपना पूरा जोर मुस्लिम चेहरे गुड्डू जमाली पर लगाया है।


Share