उमरान मलिक की घातक गेंदबाजी, 143 की स्पीड से गेंद मयंक की पसलियों पर लगी, दर्द से छटपटाने लगे पंजाब के कप्तान; रोकना पड़ा मैच

उमरान मलिक की घातक गेंदबाजी, 143 की स्पीड से गेंद मयंक की पसलियों पर लगी, दर्द से छटपटाने लगे पंजाब के कप्तान; रोकना पड़ा मैच
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। आईपीएल  2022 सीजन का आखिरी लीग मुकाबला रविवार को सनराइजर्स हैदराबाद और पंजाब किंग्स के बीच खेला गया। पंजाब की पारी का छठा ओवर करने जम्मू एक्सप्रेस उमरान मलिक आए। उन्होंने अपने पहले ओवर की तीसरी गेंद पर शाहरूख खान को आउट कर दिया। चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने पंजाब के कप्तान मयंक अग्रवाल उतरे।

मयंक के सामने सनराइजर्स हैदराबाद के तूफानी गेंदबाज उमरान मलिक ने 143.2 किमी प्र.घ. की रफ्तार से गेंद डाली। यह गेंद मयंक की पसलियों पर लगी। गेंद मयंक के शरीर के अंदर की तरफ आई, जिसे देखकर उन्हें संभलने का बिल्कुल भी मौका नहीं मिला। उमरान की गति मयंक को भारी पड़ी। चोट इतनी भीषण थी कि मयंक लगभग 10 से 15 मिनट तक मैदान पर लेटे रह गए।

पंजाब के फिजियो ने मैदान पर संभाला मोर्चा

पीबीकेएस के फिजियो दौड़ते हुए फील्ड में आए और थोड़े वक्त के लिए मैदान में सन्नाटा पसर गया। दर्द से कराहते मयंक को तमाम खिलाड़ी घेरकर खड़े हो गए। खिलाडिय़ों के चेहरों पर चिंता का भाव था। सनराइजर्स के कप्तान भुवनेश्वर कुमार मयंक के स्वास्थ्य को लेकर फिक्रमंद दिखे।

मयंक ने की थी उमरान मलिक के साथ स्लेजिंग

जब उमरान हैदराबाद के लिए बल्लेबाजी करने आए, तो मयंक को उमरान के खिलाफ स्लेजिंग करते हुए देखा गया था। इधर उमरान बल्लेबाजी के लिए क्रीज की ओर जा रहे थे और उधर मयंक पीछे-पीछे चलते हुए उन्हें कुछ कह रहे थे। उमरान जब बल्लेबाजी के लिए तेजी से जाने लगे, तो मयंक उनके पीछे-पीछे अपनी बात रखते हुए दौडऩे लगे।

मयंक की ऐसी हरकत पर उमरान ने उस वक्त कोई जवाब नहीं दिया। बदले में गेंदबाजी के दौरान उमरान ने मयंक के सामने गेंद को शॉर्ट रखा और उसे एंगल के साथ अंदर की तरफ लाया। परिणाम हुआ कि बॉल मयंक की पसलियों पर लग गई। उमरान ने पहले कहा था कि मुझे स्पीड के दम पर बल्लेबाजों को हिट करने में मजा आता है। आज उनकी स्पीड का कहर लाइव मैच में देखने को मिला।

पहली बार टीम इंडिया के लिए चुने गए हैं उमरान

उमरान मलिक रविवार को ही टीम इंडिया में चुने गए हैं। उन्हें साउथ अफ्रीका के खिलाफ 5 टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया है। यह सीरीज 9 जून से शुरू होगी। क्रिकेट की दुनिया नए स्पीड स्टार के स्वागत को तैयार है।

फल-सब्जी की दुकान चलाते हैं उमरान के पिता, बोले- देश को गौरवान्वित करेगा मेरा बेटा

टीम इंडिया के  लए चुने गए उमरान मलिक के पिता अब्दुल मलिक ने कहा कि उसे इतना प्यार देने के लिए मैं पूरे देश का शुक्रगुजार हूं। यह सब उसकी मेहनत का फल है। वह देश को गौरवान्वित करेगा।

उमरान के पिता अब्दुल मलिक स्थानीय स्तर पर फल और सब्जियों की दुकान लगाते हैं। 22 साल के उमरान ने 4 साल पहले गुज्जर नगर में कॉन्क्रीट पिच पर अपना करियर शुरू किया था। उनके पिता बोले, बहुत सारे युवा ऐसे हैं जो ड्रग्स आदि का सेवन कर अपनी जिंदगी खराब कर रहे हैं, लेकिन उमरान ने हमें आश्वस्त किया था कि उन्हें सिर्फ क्रिकेट का नशा है।


Share