43 महीनों बाद उमेश को मिला टी-20 मैच खेलने का मौका

Umesh got a chance to play T20 matches after 43 months
Share

मोहाली (एजेंसी)। भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज उमेश यादव के लिए मंगलवार (20 अक्टूबर) का दिन बेहद खास है। उमेश को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी20 मैच के लिए भारतीय प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है। उमेश लगभग 43 महीने बाद टी20 इंटरनेशनल मैच खेल रहे हैं।

34 वर्षीय उमेश यादव ने अपना आखिरी टी20 इंटरनेशनल मैच 24 फरवरी 2019 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेला था। उन्हें मोहम्मद शमी की जगह टीम इंडिया में शामिल किया गया है। शमी सीरीज शुरू होने से पहले कोरोना पॉजिटिव हो गए।

उमेश यादव हाल में इंग्लैंड से भारत लौटे थे। काउंटी क्रिकेट खेलते समय उनकी जांघ में चोट आ गई थी। इस समय वह बेंगलुरु स्थित एनसीए में रिहैब करा रहे थे। उमेश लगातार 140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकेते हैं। वह पावरप्ले में टीम इंडिया के मुख्य हथियार साबित हो सकते हैं।

उमेश यादव को हाल के दिनों में सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में जगह मिल रही थी। हालांकि पिछले आईपीएल में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया था। आईपीएल के बाद उमेश ने काउंटी क्रिकेट में भी धारदार गेंदबाजी की थी।

उमेश यादव ने आईपीएल के 14वें एडिशन में कोलकाता नाइटराइडर्स की ओर से खेलते हुए 16 विकेट चटकाए थे। हालांकि आईपीएल 2022 नीलामी के पहले दिन उन्हें कोई खरीदार नहीं मिला था।   उमेश यादव को बाद में कोलकाता नाइटराइडर्स ने उनके बेस प्राइस दो करोड़ रुपये में अपने साथ जोड़ा था। इससे पहले उमेश जब आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम में थे तब उन्हें खेलने के ज्यादा मौके नहीं मिले थे।  साल 2020 में उमेश को आरसीबी ने सिर्फ दो मैचों के लिए अपने प्लेइंग इलेवन में जगह दी थी जबकि आईपीएल के 13वें एडिशन में दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें पूरे सीजन बेंच पर ही बिठाए रखा।  उमेश ने आईपीएल के बाद इस वर्ष काउंटी में मिडिलसेक्स की ओर से खेला। उन्होंने रॉयल वनडे लंदन कप में 7 मैचों में 16 विकेट लिए। वह सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे।   उमेश ने 52 टेस्ट मैचों में 158 विकेट चटकाए हैं जबकि 75 वनडे इंटरनेशनल मैचों में उनके नाम 106 विकेट दर्ज हैं। 7 टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में उमेश ने 9 शिकार किए हैं।


Share