Saturday , 23 June 2018
Breaking News
Home » Udaipur » लाल झंडा टेम्पो चालक यूनियन के अध्यक्ष व उसके भाई को कारावास

लाल झंडा टेम्पो चालक यूनियन के अध्यक्ष व उसके भाई को कारावास

arrest_womenउदयपुर। दूधतलाई पिछोला झील पर ड्यूटी कर रहे पर्यटन पुलिस सहायता बल के कांस्टेबलों को डरा-धमका कर राजकार्य में बाधा उत्पन्न करने वाले लाल झंडा टेम्पो चालक यूनियन के अध्यक्ष व उसके भाई को अदालत ने एक वर्ष के कारावास की सजा सुनाई।
प्रकरण के अनुसार पर्यटन पुलिस सहायता बल के कांस्टेबल हरिराम ने 25 अगस्त 2011 में घंटाघर थाने में रिपोर्ट दी कि कांस्टेबल लूण सिंह के साथ दूधतलाई पिछोला झील पर ड्यूटी कर रहा था, शाम 6 बजे के दौरान एक व्यक्ति भ्रमण पर आए पर्यटकों के साथ दुव्र्यवहार व गाली-गलौज कर रहा था, उसे पकड़ा तो वह हमें धमकाने लगा कि तुम हमें जानते नहीं मैं लाल झंडा ऑटो चालक यूनियन का अध्यक्ष जावेद का भाई हूं। यह कह कर धमकाने लगा और धक्कामुक्की करता हुआ वहां से भाग गया। कुछ ही देर बाद किशनपोल रजा नगर सूरजपोल निवासी मोहम्मद जावेद पुत्र बाबू खां टेम्पो में दो-तीन व्यक्तियों के साथ आया और ड्यूटी कर रहे दोनों कांस्टेबलों को धमकाया। मोहम्मद जावेद और उसका छोटा भाई फिरोज खान उर्फ सोनी अपराधिक प्रवृत्ति के है, इनके खिलाफ पुलिस ने भादसं की धारा 353, 332 में मामला दर्ज कर दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर अदालत में आरोप पत्र पेश किया। मामले की सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से सात गवाह व छह दस्तावेज प्रदर्शित किए गए। दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट क्रम-3 की पीठासीन अधिकारी श्रीमती आंचल अग्रवाल ने टेम्पो यूनियन के अध्यक्ष मोहम्मद जावेद व उसके भाई फिरोज खान को दोषी करार देते हुए भादसं की धारा 332 में एक-एक वर्ष का कारावास व एक-एक हजार रूपए जुर्माना और धारा 353 में 6-6 माह का कारावास व 500-500 रूपए जुर्माने की सजा सुनाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*