रैली में जमकर लगे ठहाके जब प्र.म. मोदी बोले- झाड़े रहो कलेक्टर गंज

There was a lot of laughter in the rally when PM. Modi said - stay away collector Ganj
Share

कानपुर (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कानपुर में अपने पुराने दिनों को याद करते हुये शहर के मशहूर पनकी वाले हनुमान जी और ठग्गू के लड्डू का जिक्र तो किया ही, साथ में कनपुरियों की हाजिर जवाबी के निराले अंदाज का भी जब उल्लेख किया तो जनसभा में जमकर ठहाके लगे। मोदी ने निराला नगर की रैली में कानपुर वालों को बात बात में हर आम और खास की जुबान से निकलने वाला जुमला याद दिलाते हुये कहा कि ‘झाड़े रहो कलेक्टर गंज’.. प्रधानमंत्री के इतना कहने पर रैली में लोगों ने जोरदार ठहाका लगाया।

रैली के दौरान मोदी ने कहा कि कानपुर के लोगों का जो मिजाज है, जो कनपुरिया अंदाज है, जो उनकी हाजिर जवाबी है, उसकी तुलना ही नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि कानपुर से उनका गहरा नाता है और संगठन के काम से जब वह कानपुर आते थे तो यहां के लोगों की हाजिर जवाबी के कायल हो जाते थे। उन्होंने कहा, मुझे आज भी याद आता है जब कनपुरिया अंदाज में लोग कहते थे ‘गुरू झाड़े रहो कलेक्टर गंज।‘

इस दौरान मोदी ने कानपुर के मशहूर ‘ठग्गू के लड्डू’ के जायके और जुमले को भी याद किया। मोदी ने ठग्गू के लड्डू के लिये मशहूर जुमले की जैसे ही पहली पंक्ति बोली, ‘ऐसा कोई सगा नहीं’ तुरंत भीड़ से आवाज आयी ‘जिसको हमने ठगा नहीं।‘ इस मौके पर मोदी ने कानपुर में आस्था के केन्द्र ‘पनकी वाले हनुमान मंदिर’ का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आज मंगलवार है और पनकी वाले हनुमानजी के आशीर्वाद से आज यूपी के विकास में एक और सुनहरा अध्याय जुड़ रहा है। आज कानपुर को मेट्रो की कनेक्टिविटी मिली है साथ ही बीना रिफाइनरी से भी कानपुर अब जुड़ गया है। इससे पहले प्र.म. मोदी ने 11 हजार करोड़ रूपये की लागत वाली कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के पहले चरण का लोकार्पण किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिठूर की शौर्य गाथा वाली शॉल और मेट्रो का स्मृति चिन्ह भेंट करते हुए प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया। इस दौरान केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, उप्र के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना भी मौजूद थे। इस मौके पर मोदी ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से भी बातचीत की।


Share