धोती पहन मंदिर पहुंचा द. अफ्रीकी खिलाड़ी -हिंदू धर्म में गहरी आस्था

The African player reached the temple wearing a dhoti
Share

तिरूवनंपुरम (एजेंसी)। देशभर में नवरात्रि धूमधाम से मनाई जा रही है। नौ दिन शक्ति का पर्व होगा। मातारानी की आराधना होगी। भक्त मस्ती से गरबा खेलेंगे। मंदिरों में दर्शन करने के लिए भक्तों की भीड़ उमडऩी शुरू हो चुकी है। इस बीच एक साउथ अफ्रीकी ने भी नवरात्रि के पहले दिन जाकर मंदिर में माथा टेका। हम बात कर रहे हैं स्टार ऑलराउंडर केशव महाराज की। केशव हमेशा से ही हिंदू देवी-देवताओं को लेकर अपने मन में खास आस्था रखते हैं।

धोती पहनकर पहुंचे थे मंदिर

भारत के खिलाफ तीन मैच की टी-20 और फिर वनडे सीरीज खेलने आई साउथ अफ्रीकी टीम के मेंबर केशव ने तिरूवनंतपुरम के पद्मनाभस्वामी मंदिर में पूजा-अर्चना की। इस खास पल की फोटो भी उन्होंने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर की। परंपरागत तरीके से धोती पहनकर पूजा करने वाले केशव महाराज की फोटो इंटरनेट पर वायरल हो रही है। कैप्शन में उन्होंने सभी को नवरात्रि की बधाई देते हुए जय माता दी भी लिखा।

यूपी के सुल्तानपुर से संबंध

7 फर. 1990 को डरबन में जन्में केशव महाराज लेफ्ट आर्म स्पिनर हैं। बतौर पेसर करियर की शुरूआत करने वाले केशव महाराज के पूर्वज किसी जमाने में भारत में ही रहा करते थे, जो 1874 में उत्तरप्रदेश के सुल्तानपुर से मजदूरी करने दक्षिण अफ्रीका लाए गए थे। केशव के परिवार में चार सदस्य हैं। क्रिकेटर के अलावा माता-पिता और एक बहन है, जिनकी शादी श्रीलंका के ही रहने वाले एक व्यक्ति से हुई है।

पिता और दादा भी खेलते थे क्रिकेट

केशव महाराज के पिता आत्मानंद भी क्रिकेटर थे, जो साउथ अफ्रीका के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते थे। हालांकि आत्मानंद को कभी भी टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला। दादा भी क्रिकेटर थे। केशव महाराज हनुमान जी के बड़े भक्त हैं। साउथ अफ्रीका में रहने के बावजूद रीति-रिवाज फॉलो करते हैं। भारतीय त्यौहार मनाते हैं।


Share