दबाव हम पर नहीं भारत पर होगा: करूणारत्ने

दबाव हम पर नहीं भारत पर होगा: करूणारत्ने
Share

मोहाली (एजेंसी)। श्रीलंका भारत में 20 टेस्ट मैच खेल चुका है। इनमें से 11 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है और वह एक बार भी नहीं जीता है। श्रीलंका की महान टीमें, जिनमें मुथैया मुरलीधरन, चाङ्क्षमडा वास, कुमार संगकारा और सनथ जयसूर्या जैसे धुरंधर खिलाड़ी मौजूद थे, भी जीत का स्वाद चखने से वंचित रहे। दिमुथ करूणारत्ने के पास जो टीम है उसमें शायद इतने बड़े नाम नहीं हैं। लेकिन पहले टेस्ट के एक दिन पूर्व श्रीलंकाई कप्तान ने याद दिलाया कि इस टीम के पास इतिहास बदलने का अनुभव है। भारत अब तक दक्षिण अफ़्रीका में कोई सीरी•ा नहीं जीता है। 2019 में डर्बन और पोर्ट एलि•ााबेथ की सूखी तटवर्ती पिचों पर करूणारत्ने की टीम ने यह कर दिखाया था।

करूणारत्ने ने पहले टेस्ट की पूर्वसंध्या पर गुरूवार को कहा कि इस टीम को अपनी शक्तियों का ज्ञान है और पिछले एक साल से इसमें निरंतर सुधार दिख रहा है। उन्होंने कहा, आम तौर पर भारत में आते हुए हमारी टीम में जितना आत्मविश्वास रहता है, इस बार मुझे उससे कहीं •ा्यादा आत्मविश्वास दिख रहा है। हमने गत वर्ष टेस्ट में अच्छा खेल दिखाया है और हमारी टीम में अनुभवी और युवा खिलाड़यिों का अच्छा मिश्रण है।

उन्होंने कहा,ठीक 2019 की तरह हम इस बार भी कुछ $खास करने की क्षमता रखते हैं। तब भी हम पर अपेक्षाओं का कोई दबाव नहीं था और अब भी ऐसा ही है।

हम भारत में कभी मैच नहीं जीते हैं और दबाव मे•ाबान पर ही रहेगा कि कोई मैच उनके हाथ से ना छूटे। हमें इस दबाव का फ़ायदा उठाना होगा। भारत की टीम बहुत म•ाबूत है लेकिन उनके पास भी कुछ युवा खिलाड़ी होंगे। यह एक अलग भारतीय टीम है और मुझे यक़ीन है हम उन्हें कड़ा मुक़ाबला देंगे।

 


Share