बंगाल में तृणमूल ने जो कीचड़ फैलाया, अब उसी कीचड़ में खिल रहा कमल

5 राज्यों में चुनाव की तारीखों का एलान - बंगाल में 8 चरणों में वोटिंग, 2 मई को नतीजे
Share

कोलकाता (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार यानी आज पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मजबूती देने और जनता का भरोसा जीतने बंगाल दौरे पर पहुंचे हैं। विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद प्र.म. मोदी कोलकाता में पहली रैली को संबोधित किया। कोलकाता में चुनावी हुंकार भरते हुए प्र.म. मोदी ने कहा कि बांग्ला उन्नति, शांति और प्रगति चाहता है। इस दौरान प्र.म. ने युवाओं को उज्जवल भविष्य के सपने दिखाए, विकास के वादे किए, इतिहास का जिक्र किया और विपक्ष पर जमकर हमला बोला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन की शुरूआत रैली में पहुंचे जनसैलाब के जिक्र के साथ किया। मोदी ने कहा कि राजनीतिक जीवन में सैकड़ों रैलियों को संबोधित करने का सौभाग्य मिला है, लेकिन इतने लंबे कार्यकाल में मैंने कभी इतने बड़े विशाल जन समूह का हमें आशीर्वाद मिला हो ऐसा दृश्य मुझे आज देखने को मिला है।

दीदी ने दिया बंगाल के लोगों को धोखा : प्र.म.

मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल ने परिवर्तन के लिए ही ममता दीदी पर भरोसा किया था, लेकिन दीदी और उनके काडर ने ये भरोसा तोड़ दिया। इन लोगों ने बंगाल का विश्वास तोड़ा। इन लोगों ने बंगाल को अपमानित किया। यहां की बहन-बेटियों पर अत्याचार किया। नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरे लिए गुस्से में क्या-क्या कहा जा रहा है। कभी रावण, कभी दैत्य, कभा गुंडा…दीदी..इतना गुस्सा क्यों? अगर आज बंगाल में कमल खिल रहा है तो इसका कारण वही कीचड़ है जो आपकी पार्टी आपकी सरकार ने यहां फैलाया।

बलिदान देने वाले सपूतों को प्र.म. ने याद किया

मोदी ने कहा कि बंगाल की इस धरती ने हमारे संस्कारों को ऊर्जा दी है। बंगाल की इस धरती ने भारत की आजादी के आंदोलन में नए प्राण फूंके। बंगाल की इस धरती ने ज्ञान-विज्ञान में भारत का गौरव बढ़ाया। बंगाल से निकले महान व्यक्तित्वों ने एक भारत, श्रेष्ठ भारत की भावना को सशक्त किया। बंगाल की इस धरती ने एक विधान, एक निशान, एक प्रधान के लिए बलिदान देने वाला सपूत हमें दिया। इस दौरान प्र.म. ने स्वामी विवेकानंद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस,  महर्षि अरबिदों समेत कई महान विभूतियों का जिक्र किया।

एक ओर टीएमसी, कांग्रेस और लेफ्ट – दूसरी ओर जनता

प्र.म. मोदी ने कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव में एक तरफ टीएमसी है, लेफ्ट-कांग्रेस है, उनका बंगाल विरोधी रवैया है,और दूसरी तरफ खुद बंगाल की जनता कमर कसकर खड़ी हो गई है। आज ब्रिगेड ग्राउंड में आप लोगों की हुंकार सुनने के बाद अब किसी को कोई संदेह नहीं रह जाएगा। कुछ लोगों को तो लगता होगा कि शायद आज 2 मई आ गई है।

बंगाल को विकास का भरोसा दिलाया

प्र.म. मोदी ने कहा, मैं ब्रिगेड ग्राउंड से आपको इस आशोल पोरिबोरतोन का विश्वास दिलाने आया हूं। विश्वास, बंगाल के विकास का। विश्वास, बंगाल में स्थितियों के बदलने का। विश्वास, बंगाल में निवेश बढऩे का। विश्वास, बंगाल के पुनर्निर्माण का। विश्वास, बंगाल की संस्कृति की रक्षा का।

प्र.म. बोले, पल-पल आपके सपनों के लिए जिऊंगा

मोदी ने कहा, मैं विश्वास दिलाने आया हूं कि आपके लिए, यहां के नौजवानों के लिए, किसानों, उद्यमियों, यहां की बहनों-बेटियों के विकास के लिए हम 24 घंटे दिन रात मेहनत से काम करेंगे। हम मेहनत करने में कोई कमी नहीं रखेंगे। प्र.म. ने कहा कि हम पल-पल आपके लिए जिएंगे। हम पल-पल आपके सपनों के लिए जिएंगे। ये विश्वास दिलाने मैं आया हूं।

भाई-भतीजावाद पर ममता को घेरा : प्र.म. मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने एक ही भतीजे की बुआ होने के मोह को क्यों चुना? बंगाल के लाखों भतीजे-भतीजियों की आशाओं के बजाय आप अपने भतीजे का लालच पूरा करने में क्यों लग गईं? आप भी भाई-भतीजावाद के उन कांग्रेसी संस्कारों को छोड़ नहीं पाईं, जिनके खिलाफ आपने बगावत की थी।

आपकी स्कूटी नंदीग्राम में ही गिरेगी : मोदी ने कहा कि दीदी, आप बंगाल की ही नहीं आप तो भारत की बेटी हैं। कुछ दिन पहले जब आपने स्कूटी संभाली, तो सभी प्रार्थना कर रहे थे कि आप सकुशल रहें। अच्छा हुआ आप गिरी नहीं, नहीं तो जिस राज्य में वो स्कूटी बनी है, उस राज्य को ही अपना दुश्मन बना लेतीं। आपकी स्कूटी नंदीग्राम में ही गिरेगी।

मैं अपने गरीब दोस्तों के लिए करता रहूंगा : प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। प्र.म. ने कहा कि आज कल तो हमारे विरोधी भी कहते हैं कि मैं दोस्तों के लिए काम करता हूं। हम सभी जानते हैं कि बचपन में हम जहां पले-बढ़े होते हैं, बचपन में जहां खेले-कूदे होते हैं, जिनके साथ पढ़े होते हैं, वो हमारे जीवन भर के पक्के दोस्त होते हैं। मैं भी गरीबी में पला-बढ़ा और इसलिए उनका दुख-दर्द क्या है, चाहे वो हिंदुस्तान के किसी भी कोने में क्यों न हो क्योंकि वो हमारे दोस्त हैं, उनको मैं भली-भांति अनुभव का सकता हूं।इसलिए मैं दोस्तों के लिए काम करता हूं और मैं दोस्तों के लिए ही काम करता रहूंगा।

प्र.म. मोदी ने कहा, अब नहीं चलेगा धांधली : प्र.म. ने कहा, मेरे आप सभी दोस्त बताइए, दोस्ती चलेगी या तोलाबाजी? बहनों और भाइयों, आपके इसी जोश से दीदी और उनके साथियों की नींद उड़ी हुई है। तभी तो ये लोग कह रहे हैं कि इस बार – खेला होबे। आपने लोगो की मेहनत की कमाई से, लोगों की जिंदगियों से खेला है। आपने चाय बागानों को ताला लगा दिया, राज्य को कर्ज में डुबो दिया। आपने युवाओं से उनके हक की नौकरी, उनका वेतन तक छीन लिया। अब ये नहीं चलेगा, अब ये खेल नहीं चलेगा।


Share