उदयपुर में अब तक का सबसे जघन्य हत्याकांड, सिलाई के बहाने दुकान में वीडियो बनाते हुए टेलर का गला काटा, आक्रोश के चलते 7 घंटे मौके पर पड़ा रहा शव, नेटबंदी के बाद, पथराव-आगजनी, 10 थाना क्षेत्रों में कफ्र्यू

Police in action after Kanhaiya's murder, poisonous cleric arrested after 28 days
Share

उदयपुर. नगर संवाददाता & सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट डालने वाले टेलरिंग का काम करने वाले एक युवक की दिन दहाड़े दुकान में ही पठानी सूट सिलाने का नाप देने के बहाने खंजर से गला काटकर निर्मम हत्या कर दी। घटनाक्रम के बाद आरोपियों ने सोशल मीडिया पर तीन विडियों वायरल किए और इनमें एक विडियों में ये युवक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चेतावनी दे रहे है। युवक की निर्मम हत्या और आरोपियों द्वारा वायरल किए गए विडियों पूरे देश में आग की तरह फैल गया।  हत्या के बाद से शहर में माहौल तनावपूर्ण हो गया और बाजार बंद हो गये। शहर के बाजारों को बंद करवा दिया गया और देहलीगेट पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। घटना के बाद मृतक के शव को स्थानीय लोगोंं ने हटाने नहंी दिया और मृतक का शव देर रात तक मौके पर ही पड़ा। घटना के बाद कुछ युवकों ने बोहरवाड़ी में पथराव किया तो सामने से भी पत्थर फैंके गए, जिससे एक पुलिस अधिकारी और एक पुलिसकर्मी को चोट आई। इस दौरान एक घर में खड़ी दो बाईकों को भी आग के हवाले कर दिया गया।  मामले के उग्र होता देखकर आईजी हिंगलाज दान, संभागीय आयुक्त राजेन्द्र भट्ट, एसीबी डीआईजी राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने कलेक्टर ताराचंद मीणा और एसपी मनोज चौधरी ने कमान संभाली और स्थिति को नियंत्रण में करने का प्रयास किया, लेकिन हंगामा चलता रहा। घटना की गंभीरता को देखते हुए इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया और शहर के 10 थाना क्षेत्र में कफ्र्यू लगा दिया गया। देर रात्रि तक अंदरूनी शहर में माहौल गर्माता रहा। वहीं राजसमंद पुलिस ने हत्या करने वाले दोनों आरोपियों को भीम में दबोच लिया। घटनाक्रम की जांच एनआईए को सौंपी गई है। देर रात एनआईए की टीम उदयपुर रवाना हो गई है।

हत्यारों ने वारदात के बाद सोशल मीडिया पर हथियार लहराते हुए प्र.म. मोदी को दी धमकी

घटनाक्रम के अनुसार मालदास स्ट्रीट स्थित भूतमहल में सुप्रीम टेलर्स सूट स्पेशलिस्ट कन्हैयालाल (48) पुत्र रूपलाल तेली निवासी हाउसिंग बोर्ड कॉलेनी हिरणमगरी सेक्टर चौदह कपड़े सिलने का कार्य करता है उसके साथ ईश्वर (49) पुत्र काशीराम गौड़ निवासी मेगा आवास रकमपुरा बेड़वास और राजकुमार (42) पुत्र भेरूलाल शर्मा निवासी रावजी का हाटा भी साथ में काम करते र्है। मंगलवार दोपहर को दो युवक इस दुकान पर गए और कन्हैयालाल को पठानी का नाप लेने के लिए कहा। दोनों युवक सिर पर हरे रंग का कपड़ा बांधे थे। उन्होंने आते ही थैले से निकालकर कपड़ा दिया और पूछा कि कितना मीटर कपड़ा लगेगा और टेलर कन्हैयालाल से बातचीत कर रहे थे। टेलर कन्हैयालाल ने भी नाप लेना शुरू कर दिया, इस दौरान नाप दे रहे एक युवक ने अपने साथी को ईशारा किया और दूसरे हमलावर ने अपने थैले में से खंजर निकाला और ताबड़तोड़ मास्टर के गर्दन पर वार करना शुरू कर दिया। टेलर मास्टर ने अपना बचाव करने का प्रयास भी किया और वह एक-दो बार हाथ बीच मेें भी लाया, लेकिन दोनों युवकों ने लगातार हमला कर टेलर की गर्दन काट दी। यह देखते ही वहां काम कर रहे दोनों कर्मचारियों में खलबली मच गई और वे जान बचाकर भागे तो ईश्वर गौड़ पर हमलावर ने वार कर दिया जिस पर उसका सिर पीछे से फट गया वह बचता हुआ मेहता केमिकल की दुकान में घुस गया। इधर दूसरा टेलर राजकुमार शर्मा पर भी हमलावरों ने हमला किया, लेकिन वह पीछे हट गया, जिससे खंजर सीधा सिलाई मशीन पर लगा और मशीन टूट गई। गर्दन कटने के बाद भी टेलर दुकान से बाहर निकल गया और दुकान के बाहर सड़क पर ही गिर पड़ा। इधर घायल ईश्वर गौड को पड़ोसी दुकानदार ने कपड़ा बांधा और अभिषेक नामक युवक ने घायलावस्था में एमबी चिकित्सालय पहुंचाया। दोनों हमलावर हत्या करने के बाद भूतमहल के नीचे तीन खम्बा के वहां उतरे और खंजर को सरेआम थैले में डाला और भाग गये। टेलर मास्टर की हत्या की सूचना क्षेत्र में आग की तरह फैल गई और मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई। लोगों ने मृतक का विडियों बनाकर सोशल मीडिया पर डालना शुरू कर दिया, जिससे मौके पर आस-पास से भी सैंकड़ों की संख्या में युवक पहुँच गए। सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस अधिकारी पहुंचे और शव को मौके से हटाने का प्रयास किया, लेकिन लोग नहीं माने और शव हटाने से इंकार कर दिया। लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया। मामला बढ़ता हुआ देखकर मौके पर जिला कलेक्टर ताराचंद मीणा, जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, पुलिस उप अधीक्षक एवं सभी थानाधिकारी मौके पर पहुंच गये। पुलिस की बख्तरबंद टीम भी मौके पर आई लेकिन लोग नहंी मान रहे थे।

कुछ ही देर में सोशल मीडिया पर एक के बाद तीन विडियों वायरल हुए, जिसमें ये हत्यारे खुला चैलेंज दे रहे थे, जिससे लोगों मे ओर भी आक्रोश व्याप्त हो गया। एक साथ सैंकड़ों लोगों का हुजूम हाथीपोल की ओर बढ़ गए। मामला दो समुदायों का होने के कारण पुलिस शहर भर का पुलिस जाब्ता हाथीपोल पहुँच गया। मामला बढ़ता हुआ देखकर उच्चाधिकारियों के निर्देश पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक राजेन्द्र प्रसाद गोयल मौके पर पहुंचे और उन्होंने हंगामा कर रहे लोगों से समझाईश करने का प्रयास किया। इस दौरान उपमहापौर एवं चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पारस सिंघवी, भाजपा के महामंत्री गजपालसिंह राठौड़, अधिवक्ता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक प्रवीण खण्डेलवाल, मृतक का बेटे यश व तरूण की मौजूदगी में स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं चुनिंदा व्यापारियों की मौजूदगी में आयुर्वेद हॉस्पीटल सभागार में वार्ता हुई। उस दौरान जिला कलेक्टर व जिला पुलिस अधीक्षक भी मौजूद थे उन्होंने सभी बातें स्वीकार कर ली।

हत्या का वीडियो भी बनाया

इस दौरान दोनों आरोपियों ने हत्या करते हुए का विडियों भी बनाया। इनमें से एक आरोपी अपने पठानी सूट का नाप दे रहा था और दूसरा आरोपी विडियों बना रहा था। नाप देते-देते आरोपी ने अपने साथी को ईशारा किया और उसने खंजर निकालकर हमला कर दिया, जिससे टेलर ने बचने का प्रयास भी किया, लेकिन बदमाश लगातार खंजर से हमला करते जा रहे थे और एक वार टेलर के गर्दन पर लगा और उसका गला कट गया। हमला करते हुए का आरोपियों ने विडियों भी सोशल मीडिया पर डाला है।


Share