लोकसभा में गूंजा कश्मीरी पंडितों का मुद्दा, केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने कांग्रेस पर बोला हमला

The issue of Kashmiri Pandits resonated in the Lok Sabha, Union Minister Jitendra Singh attacked the Congress
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारतीय जनता पार्टी के नेता केजे अल्फोंस ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी की केरल इकाई ने कश्मीरी पंडितों के पलायन पर ‘अजीब बयान’ दिए हैं। उन्होंने कहा कि हर कोई जानता है कि 1.5 लाख से अधिक कश्मीरी पंडितों को सांप्रदायिक आधार पर, सत्तारूढ़ सरकार द्वारा, जो कांग्रेस या उसकी समर्थित सरकारें थीं, बाहर कर दिया गया था।

वहीं लोकसभा में केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने भी कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस पर हमला बोला। जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान समाप्त करने और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के फैसले का बचाव करते हुए केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी को लगता है कि अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के कारण सब कुछ गलत हुआ है तो वह सार्वजनिक रूप से यह बात कहें। लोकसभा में केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के लिए वित्त वर्ष 2022-23 के बजट और वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अनुदान की अनुपूरक मांगों पर चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए राज्य मंत्री सिंह ने कहा, क्या कांग्रेस पार्टी इस सदन में कहेगी कि वह अगर सत्ता में आई तब अनुच्छेद 370 वापस लायेगी? कांग्रेस इस मामले पर अपना विचार व्यक्त करके इस संबंध में सवाल पर विराम लगाए।

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि आपमें ऐसा कहने का साहस नहीं है क्योंकि आपको जनभावना मालूम है। जम्मू कश्मीर की समस्या के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी एवं पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के बीच समझौता हुआ था और इसके बाद विषयों को ठीक ढंग से नहीं देखा गया। उन्होंने कहा कि कश्मीरी पंडितों को चुनिंदा तौर पर निशाना बनाया गया, एक की हत्या एवं हजारों को धमकाने की नीति अपनायी गई जिससे कश्मीरी पंडितों को वहां से निकलने पर मजबूर होना पड़ा।


Share