कोरोना टीके की पहली खेप पहुंची उदयपुर

कोरोना टीके की पहली खेप पहुंची उदयपुर
Share

उदयपुर (कार्यालय संवाददाता)। वायुयान से कोरोना वैक्सीन की पहली खेप बुधवार को उदयपुर के डबोक एयरपोर्ट पहुंची। एयरपोर्ट पर अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओ.पी.बुनकर की अगुवाई में चिकित्सा विभाग की टीम ने टीके की डोज को प्राप्त कर वैक्सीन स्टोर तक पहुंचाया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश खराड़ी ने बताया कि संभाग के हेल्थ वर्कर्स के लिए कुल 1 लाख 500 डोज टीके प्राप्त हुए है। वैक्सीन को पूर्ण सुरक्षा के साथ वैक्सीन वैन में पूर्ण निगरानी में एस्कॉर्ट सहित बड़ी स्थित वैक्सीन भंडारण केंद्र लाया गया। यहां आवश्यक तापमान 2 से 8 डिग्री के मध्य भंडारित किया गया है एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु भण्डारण केंद्र पर 24 घंटे प्रतिदिन पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है।

प्रथम चरण में हेल्थ केयर वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा जिसका शुभारंभ 16 जनवरी को किया जाएगा। आने वाले समय में राज्य सरकार से प्राप्त दिशा निर्देशानुसार ही डब्ल्यूआईसी/डब्ल्यूआईएफ केंद्र से अन्य जिलों में निर्धारित कोल्ड चेन केंद्रों पर सप्लाई की जा रही है। जिले में कोविड टीके के लिए दो चरणों में 20 जगहों पर ड्राई रन हुआ है। टीकाकरण के लिए आवश्यक ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है। इस अवसर पर एयरपोर्ट अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल स्वरूप मेवाड़ा, डायरेक्टर नंदिता भट्ट, सीआईएसएफ असिस्टेंट कमांडेंट विपुल सैनी, आरसीएचओ डॉ. अंकित जोशी, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ अक्षय व्यास, डॉ. मुदित माथुर आदि मौजूद रहे।

प्र.म. 16 को लॉन्च करेंगे कोरोना टीकाकरण अभियान को-विन एप की भी होगी शुरूआत

कोरोना के खिलाफ जंग जीतने के लिए भारत पूरी तरह से तैयार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को देश में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण का महाभियान की शुरूआत करेंगे। इसी के साथ प्रधानमंत्री मोदी को-विन एप को भी लॉन्च करेंगे। टीकाकरण अभियान से पहले की सारी तैयारियां कर ली गई हैं। कोरोना वैक्सीन की खेप देश के अलग-अलग सेंटरों पर पहुंच चुकी है।

16 जनवरी यानी शनिवार से पूरे देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण का कार्यक्रम शुरू होगा। यह कोरोना के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है। जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी कोरोना टीकाकरण अभियान के कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होंगे और कोरोना का टीका देश को समर्पित करेंगे।

भारत में कोरोना की दो वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी मिली है, इनमें सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे की ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ शामिल हैं। इसके अलावा भी देश में चार और वैक्सीन मंजूरी लेने की तैयारी में हैं। कोविशील्ड की पहली खेप मंगलवार को ही देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गई है। वहीं, भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ की पहली खेप बुधवार को दिल्ली समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गई है।


Share