प्रदेश में 5 साल का सबसे घना कोहरा , 50 मीटर रही विजिबिलिटी, 18 जिलो में धुंध-कोहरा-शीतलहर

The densest fog in the state for 5 years, visibility was 50 meters, fog-fog-cold wave in 18 districts
Share

फतेहपुर शेखावाटी में पारा 2 डिग्री से नीचे, ठिठुरन से राहत 4 दिन बाद

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान का आधा हिस्सा घने कोहरे की चपेट में है। धुंध की वजह से 50 मीटर से ज्यादा दूर कुछ नजर नहीं आ रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि पांच साल बाद राजस्थान में विजिबिलिटी 50 मीटर तक घट गई। इससे पहले 14 जनवरी 2016 को विजिबिलिटी 50 मीटर रिकॉर्ड की गई थी। प्रदेश में एक कम तीव्रता का पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से ऐसी परिस्थितियां बनी हैं। शीतलहर के चलते कड़ाके की ठंड कम होने का नाम नहीं ले रही है। हालांकि 4-5 दिन बाद मौसम बदलने के आसार हैं, तब ठिठुरन से राहत मिल सकती है।

सोमवार को भी राजधानी जयपुर सहित 18 जिलों में घना कोहरा छाया रहा। इससे कई जगहों पर सुबह10 बजे के बाद भी सूरज नहीं दिखा। जहां कहीं धूप निकली भी तो सर्द हवाओं की वजह से गलन व ठिठुरन के बीच उसका असर न के बराबर रहा। फतेहपुर शेखावाटी में बीती रात को पारा गिरकर 2 डिग्री से नीचे चला गया। माउंट आबू में भी पारा लगातार 9वें दिन माइनस में रहा। सोमवार सुबह उदयपुर में न्यूनतम तापमान 8 एवं अधिकतम तापमान 19 डिग्री रहा। यहां भी सुबह कोहरे की चादर बिछी रही।

22 जन. से मौसम में बदलाव की संभावना

मौसम विभाग जयपुर केंद्र के डायरेक्टर राधेश्याम शर्मा ने बताया कि रविवार को इस सीजन का सबसे घना कोहरा रहा। जनवरी के पहले सप्ताह में दो पश्चिमी विक्षोभ की वजह से हुई अच्छी बारिश से यह स्थिति बन रही है। शर्मा के मुताबिक अभी चार दिन और ऐसे हालात बने रहेंगे। प्रदेश में 22 जनवरी के बाद मौसम में बदलाव होने की संभावना है। इससे तापमान में कुछ बढ़ोतरी हो सकती है।

ये जिले घने कोहरे और शीतलहर की चपेट में

मौसम विभाग केंद्र के अनुसार 17 जनवरी को राजस्थान के कई जिलों में कोहरे का येलो अलर्ट जारी किया गया था। इसमें पूर्वी राजस्थान में अलवर, भीलवाड़ा, झुंझुनूं, सीकर, टोंक जिले में शीत लहर के साथ घना कोहरा रहा। इसी तरह, अजमेर, भरतपुर, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, दौसा, धौलपुर, जयपुर, करौली, कोटा, सवाईमाधोपुर जिलों में कहीं कहीं घना कोहरा बना रहा। बात पश्चिमी राजस्थान की करें तो बीकानेर, चुरू, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर, नागौर जिले में कहीं कहीं शीतलहर और घना कोहरा रहा।


Share