टिकट की जंग जीती, बागियों ने उड़ाए होश – वल्लभनगर से उदयलाल डांगी और धरियावद से कन्हैयालाल मीणा ने की बगावत

टिकट की जंग जीती, बागियों ने उड़ाए होश - वल्लभनगर से उदयलाल डांगी और धरियावद से कन्हैयालाल मीणा ने की बगावत
Share

नगर संवाददाता . उदयपुर। विधानसभा उपचुनाव में वल्लभनगर और धरियावद विधानसभा में भाजपा और कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर ही दी है। घोषणा के बाद से ही भाजपा के अधिकृत प्रत्याशियों का दोनों ही विधानसभाओं में विरोध शुरू हो गया है। भाजपा ने वल्लभनगर से इस बार पूर्व में विधानसभा प्रत्याशी रहे उदयलाल का टिकट काटकर हिम्मतसिंह झाला को अपना प्रत्याशी बनाया है तो धरियावद विधानसभा से दिवंगत विधायक गौतमलाल मीणा का टिकट काटकर खेतसिंह मीणा को अपना प्रत्याशी बनाया है। वहीं कांग्रेस ने वल्लभनगर से दिवंगत विधायक गजेन्द्र सिंह शक्तावत की पत्नी प्रीति शक्तावत को और धरियावद विधानसभा से पूर्व विधायक नगराज मीणा को अपना प्रत्याशी बनाया है। वहीं वल्लभनगर से जनता सेना के प्रत्याशी के रूप में पूर्व विधायक रणधीरसिंह भीण्डर और इनकी पत्नी दीपेन्द्र कुँवर को अपना प्रत्याशी बनाया है।

वल्लभनगर और धरियावद विधानसभा उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस ने गुरूवार को आखिरकार अपने अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा कर ही दी है। धरियावद विधानसभा पर भाजपा ने खेतसिंह मीणा और कांग्रेस ने नगराज मीणा को अपना अधिकृत प्रत्याशी घोषित किया है। यहां से दिवंगत विधायक गौतमलाल मीणा का पुत्र और लसाडिय़ा प्रधान कन्हैयालाल मीणा प्रबल दावेदार थ, लेकिन भाजपा ने उनका टिकट काट दिया और इस बार खेतसिंह मीणा को अपना प्रत्याशी बनाया है। इसके बाद से ही विरोध होना शुरू हो गया है। लसाडिय़ा में खेतसिंह मीणा के विरोध में दिनभर बाजार बंद रहे। वहीं कन्हैयालाल मीणा ने भाजपा एक नामाकंन और एक नामाकंन निर्र्दलीय भर दिया है और मैदान में उतर गए है। इधर कांग्रेस ने यहां से पूर्व में विधायक रहे नगराज मीणा को मैदान में उतारा है। नगराज मीणा इस विधानसभा से पांच बार चुनाव लड़ चुके है और जिसमें से दो बार जीते है। घोषणा के बाद नगराज मीणा ने अपने समर्थकों के साथ जाकर उप निर्वाचन अधिकारी के समक्ष नामाकंन पेश कर दिया।

इसी तरह वल्लभनगर विधानसभा में टिकट घोषणा के बाद से ही जबरदस्त बवाल हो गया है। इस विधानसभा से भाजपा ने इस बार प्रबल दावेदार और वर्ष 2018 में भाजपा से विधानसभा प्रत्याशी रहे उदयलाल डांगी का टिकट काट कर हिम्मतसिंह को अपना नया प्रत्याशी बनाया है। उदयलाल का टिकट काटने के बाद से ही भाजपा में उबाल आ गया है और उदयलाल डांगी ने भी दबाव की राजनीति करते हुए अपना नामाकंन पेश कर दिया है, जिसमें एक नामाकंन भाजपा से और एक नामाकंन निर्दलीय रूप से दाखिल किया है। डांगी ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतरने का मन बना लिया है। वहीं भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी हिम्मतङ्क्षसह शुक्रवार को अपना नामांकन पेश करेंगे। इधर कांग्रेस ने भी यहां पर सहानुभूति की लहर को भुनाते हुए दिवंगत विधायक प्रीति कुँवर शक्तावत को अपना प्रत्याशी बनाया है। प्रीति कुँवर शक्तावत यहां से प्रबल दावेदार थी और उन्हें प्रत्याशी बनाने के बाद से ही कांग्रेस का एक धड़ा जिसमें चार दावेदार थे वह नाराज हो गया है और अब यह धड़ा यहां से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतरने का निर्णय बना चुका है। वल्लभनगर से कांगे्रस की अधिकृत प्रत्याशी प्रीति कुँवर शक्तावत शुक्रवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सभा के बाद अपने समर्थकों से नामाकंन पेश करेगी।


Share