आतंकियों से भरा ट्रक उड़ाया – 4 आतंकी ढेर

आतंकियों से भरा ट्रक उड़ाया - 4 आतंकी ढेर
Share

जम्मू (एजेंसी)। सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में बड़ी कामयाबी हासिल की है। गुरूवार सुबह जम्मू के नगरोटा में चार आतंकियों का मार गिराया। चारों आतंकी गोला-बारूद और हथियार लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहे थे। घटना तड़के 4.50 बजे की है। सुरक्षाबलों ने नगरोटा स्थित बन टोल प्लाजा पर एक ट्रक को रोका और जांच शुरू की।

इसी दौरान ड्राइवर ट्रक से छलांग लगाकर भाग खड़ा हुआ। इसके बाद जवानों ने और जांच-पड़ताल शुरू की तो ट्रक के भीतर से फायरिंग होने लगी। करीब दो घंटे के एनकाउंटर के बाद सुरक्षा बलों ने ट्रक को ही उड़ा दिया। ट्रक चावल की बोरियों से भरा था और उसके भीतर आतंकी बैठे थे। मुठभेड़ के बाद ट्रक से 4 आतंकियों के शव निकले। इसके साथ ही 11 एके-47 राइफल, 3 पिस्टल, 29 ग्रेनेड, 6 यूबीजीएल ग्रेनेड, मोबाइल फोन, कंपास, पिट्ठू बैग बरामद किए गए हैं। पुलिस महानिरीक्षक (जम्मू रेंज) मुकेश ङ्क्षसह ने यहां प्रेस कांफेंस में जानकारी दी कि जम्मू कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर बान टोल प्लाजा के समीप मुठभेड़ में 4 आतंकवादी ढेर हो गये और पुलिस के विशेष अभियान समूह(एसओजी) दो सदस्य घायल हुए हैं। ङ्क्षसह ने विस्तृत विवरण देते हुए बताया कि भारी मात्रा में हथियारों और विस्फोटकों समेत आतंकवादियों के घुसपैठ की खुफिया सूचना के आधार पर विभिन्न जांच चौकियों पर पुलिस और अद्र्धसैनिक बलों को तैनात किया गया था। सुबह करीब पांच बजे बान टोल प्लाजा के नजदीक एक ट्रक को रोका गया। ट्रक के रूकने के बाद चालक वहां से भाग निकला। तलाशी के दौरान ट्रक में छुपे आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां चलायी और तीन घंटे तक मुठभेड़ चली।

जम्मू के रास्ते घुसपैठ के थे इनपुट

आतंकियों से ये घुसपैठ ऐसे वक्त में हुई है, जबकि दो दिन पहले ही डीजीपी दिलबाग सिंह ने यह कहा था कि पाकिस्तानी आतंकी सीमा और एलओसी के रास्ते घुसपैठ की साजिश कर रहे हैं। डीजीपी ने कहा था कि पाकिस्तानी एजेंसियों ने यहां डीडीसी चुनाव में आतंकी हमलों को प्लान बनाया है, इसे देखते हुए सतर्कता बरती जा रही है। डीजीपी और खुफिया एजेंसियों के इनपुट्स इस बार सही निकले और नगरोटा में घुसपैठ के बाद श्रीनगर जा रहे आतंकियों को मार गिराया गया। बड़ी बात ये कि आतंकियों के इस बार फिर जम्मू के रास्ते घुसपैठ करने की बात सामने आ रही है।

तो क्या फिर हुआ खुफिया सुरंगों का इस्तेमाल?

जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करने वाले आतंकियों के गोलाबारी की आड़ में भारतीय इलाके में घुसने की आशंका जताई गई है। ऐसा शक भी है कि आतंकियों ने फिर एक बार सांबा या किसी अन्य इंटरनैशनल बॉर्डर के आसपास खुफिया सुरंगों के जरिए भारतीय इलाके में घुसपैठ की है। अतीत पर गौर करें तो इसी साल कुछ ऐसी आतंकी सुरंगों का पता चल चुका है, जिनके रास्ते यहां घुसपैठ कराई जाती रही है।

कश्मीर में घुसपैठ के रास्ते बर्फबारी के बीच बंद

उत्तरी कश्मीर में बर्फबारी के कारण आतंकियों की घुसपैठ के वो रास्ते बंद होने लगे हैं, जिनसे जैश के फिदायीन दस्ते के आतंकी पू्र्व में घुसपैठ करते रहे हैं। आतंकी घुसपैठ  के लिए जम्मू के सांबा और हीरानगर के इलाके संवेदनशील कहे जाते हैं, वहीं कश्मीर में कुपवाड़ा के नौगाम, केरन और तंगधार इलाकों से पाकिस्तानी आतंकी घुसपैठ करते रहे हैं।

ऐसी आशंका भी है कि चूंकि कश्मीर से लगने वाली एलओसी से सटे चारों जिलों में भारी बर्फबारी के कारण एवलॉन्च अलर्ट दिए जा चुके हैं, ऐसे में आतंकी इस रूट के जरिए घुसपैठ करने के बजाय जम्मू रूट का इस्तेमाल कर रहे हैं।

 


Share