ताऊ ते ने मचाया कोहराम, गुजरात : 7 की मौत, 2400 गांवों में बिजली नहीं

चक्रवात तौके ने गुजरात में दस्तक दी
Share

अहमदाबाद (एजेंसी)। अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान ताऊ ते कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, गोवा और गुजरात को डराने के बाद अब राजस्थान की ओर बढ़ रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक, यह तूफान लगभग 120 किमी की रफ्तार से राजस्थान की ओर बढ़ रहा था। समाचार लिखे जाने तक चक्रवाती तूफान ताऊ-ते हालाकि उदयपुर में प्रवेश तो नहीं किया, लेकिन इसका असर मेवाड़-वागड़ में दिखने लगा यहां दिन पर हल्की बारिश होती रही वहीं शाम 7 बजे बाद तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश का दौर शुरू हो गया। मौसम विभाग ने बताया की अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान ताऊ ते  की गति धीमी पडऩे लगी है। यह मंगलवार देर रात तक राजस्थान पहुंचेगा। तूफान के कमजोर पडऩे से अब 40-50 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से ही हवा चलेगी। पहले अनुमान था कि हवा की गति 60 किमी तक रह सकती है। मौसम विभाग ने इस सिस्टम के कारण उदयपुर और जोधपुर संभाग के कुछ इलाकों में भारी बारिश की आशंका जताई है। जिसके लिए प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट था।

मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि सिस्टम के प्रभाव के कारण मंगलवार देर रात से बुधवार सुबह के बीच बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, चित्तौडग़ढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद, सिरोही, उदयपुर, जालौर और पाली में भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा जयपुर, अजमेर, कोटा और भरतपुर संभाग के भी कई जिलों में बुधवार दोपहर और देर शाम तेज बारिश का अनुमान है।

गुजरात : 7 की मौत, 2400 गांवों में बिजली नहीं

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बताया कि तेज हवाओं की वजह से 40 हजार पेड़ गिर गए हैं और 16,500 कच्चे मकानों को नुकसान हुआ है। 2400 से ज्यादा गांवों में बिजली नहीं है। 122 कोविड हॉस्पिटल में भी पावर सप्लाई में दिक्कत हुई है। राज्य में 7 लोगों की मौत हुई है।

महाराष्ट्र : 6 हजार से ज्यादा गांव प्रभावित

ताऊ ते से 3 दिन में 5 राज्यों में 27 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें सबसे ज्यादा 11 मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं। इनमें रायगढ़ जिले से 4, रत्नागिरी और ठाणे से 2-2, सिंधुदुर्ग और धुले जिले से 1-1 शामिल हैं। इसके अलावा एक व्यक्ति की मौत मुंबई के मीरा रोड इलाके में हुई है। तूफान से महाराष्ट्र में 6 हजार 349 से ज्यादा गांव प्रभावित हुए हैं। इससे पहले सोमवार और रविवार को तूफान की वजह से कर्नाटक के अलग-अलग जिलों में 5 लोगों की मौत हुई थी। वहीं गोवा और तमिलनाडु में 2-2 लोगों की जान गई थी।

प्र.म. मोदी आज करेंगे गुजरात का हवाई सर्वेक्षण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को गुजरात का दौरा करेंगे। वे तूफान से प्रभावित इलाकों का दौरा भी करेंगे। इस दौरान गुजरात के सीएम व अन्य अधिकारियों के साथ रिव्यू मीटिंग भी करेंगे। पीएम मोदी कल सुबह भावनगर पहुंचेंगे और इसके बाद वायुसेना के हेलिकॉप्टर से संघ प्रदेश दीव और सौराष्ट्र के कई जिलों में हुए नुकसान का निरीक्षण करेंगे।

गुजरात के कई जिलों में इसके असर से सोमवार रात और मंगलवार को भारी बारिश हुई है। तेज हवा चलने से कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और मकान गिर गए। नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (एनडीआरएफ) के डीजी एसएन प्रधान का कहना है कि तूफान का सबसे खराब दौर गुजर गया है। कुछ घंटों में यह डिप्रेशन में चला जाएगा।


Share