पूर्व कर्मचारी के सम्मान में टाटा ने रखा था इस कार का नाम

पूर्व कर्मचारी के सम्मान में टाटा ने रखा था इस कार का नाम
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। टाटा मोटर्स की बेहद लोकप्रिय कार रही टाटा सुमो के नाम को लेकर अकसर लोग यह सोचते हैं कि शायद इसके साइज के चलते इसे यह नाम दिया गया था। लेकिन, यह सच नहीं है और इसका नाम रखे जाने की कहानी बेहद दिलचस्प है। दरअसल टाटा ग्रुप ने इस 10 सीटर का नाम टाटा मोटर्स के पूर्व एमडी सुमंत मुलगावकर के नाम पर रखा गया था।

उनके नाम के पहले और दूसरे के अक्षर के शुरूआती वर्ड्स का इस्तेमाल कर सुमो नाम रखा गया था। यह नाम टाटा मोटर्स के लिए काफी लकी रहा और टाटा सुमो कार जमकर बिकी थी। खासतौर पर ट्रैवल्स के मकसद के लिए और बड़ी गाडिय़ों के शौकीन लोगों ने टाटा सुमो का काफी पसंद किया था। कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखने वाले टाटा ग्रुप के चेयरमैन रतन टाटा के कामकाज के तरीके की यह एक बानगी है।

टाटा मोटर्स ने रियर व्हील ड्राइव एसयूवी टाटा सुमो को 1994 में लांच किया। टाटा सुमो को 10 सीटर कार के रूप में लॉन्च किया गया था। इसको मिलिट्री उपयोग और ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। टाटा सुमो को लॉन्चिंग के बाद इसे बड़ी कामयाबी मिली थी और 1997 तक एक लाख से ज्यादा सुमो कारों की बिक्री हो गई थी। फिलहाल टाटा मोटर्स दुनिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स में से एक है।


Share