सुशांत सिंह राजपूत केस- सीबीआई ने रिया समेत 6लोगों के खिलाफ दर्ज की एफआईआर

Sushant Singh Rajput case
Sushant Singh Rajput case
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले की जांच में जुटी सीबीआई ने एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक चक्रवर्ती का भी नाम है। सीबीआई ने आईपीसी की धारा 306, 341, 342, 420, 406 और 506 के तहत एफआईआर दर्ज की है। सीबीआई की एफआईआर में रिया चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, श्रुति मोदी और अन्य के नाम हैं।

सूत्रों ने बताया कि मामले की जांच पुलिस अधीक्षक (एसपी) नूपुर प्रसाद की अगुआई वाली एसआइटी करेगी। इसकी निगरानी डीआइजी गगनदीप गंभीर तथा संयुक्त निदेशक मनोज शशिधर करेंगे। ये दोनों ही गुजरात कैडर के वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी हैं। बता दें कि बिहार सरकार की मांग पर केंद्र सरकार ने बुधवार की शाम को सीबीआइ जांच के संबंध में अधिसूचना जारी की थी।

बुधवार को केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि उसने सैद्धांतिक तौर पर यह मामला सीबीआइ को सौंपने की सिफारिश स्वीकार कर ली है। शीर्ष अदालत ने रिया चक्रवर्ती की बिहार में दर्ज मामला महाराष्ट्र स्थानांतरित करने की मांग पर बिहार सरकार, सुशांत के पिता एवं अन्य पक्षकारों को तीन दिन के भीतर जवाब दाखिल करने के निर्देश जारी किए थे। यही नहीं अदालत ने महाराष्ट्र सरकार से अभी तक हुई जांच की स्थिति रिपोर्ट बताने को भी कहा था।

सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा था कि मामले में सच सामने आना चाहिए। गौर करने वाली बात यह भी है कि सुशांत की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर चुके प्रवर्तन निदेशालय ने भी अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को समन भेजकर शुक्रवार को पूछताछ के लिए बुलाया है। ईडी ने सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा से भी पूछताछ कर चुकी है। सुशांत सिंह राजपूत के चार्टर्ड अकाउंटेंट रहे संदीप श्रीधर से भी पूछताछ हुई है।

इस बीच, मामले की जांच के लिए मुंबई गई बिहार पुलिस की चार सदस्यीय टीम पटना लौट आई है, जबकि अपनी टीम की अगुआई करने पहुंचे आइपीएस अधिकारी विनय तिवारी अभी मुंबई में ही क्वारंटाइन हैं। अपने अधिकारी को मुंबई में ‘जबरन क्वारंटाइनÓ किए जाने पर बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने गुरूवार को कड़ी नाराजगी जताते हुए चेतावनी दी है कि यदि अधिकारी को क्वारंटाइन से मुक्त नहीं किया गया तो वह कानूनी कार्रवाई करेंगे।


Share