6 माह बाद ऐसा हाहाकार – डूबे 4.75 लाख करोड़ | शेयर बाजार

शेयर बाजार में कोहराम
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। बीते कुछ दिन भारतीय शेयर बाजार की चाल निवेशकों के लिए ठीक नहीं हैं। खासतौर पर गुरूवार को शेयर बाजार की गिरावट ने निवेशकों को बड़ा झटका दिया है। शेयर बाजार के सूचकांक- सेंसेक्स और निफ्टी, दोनों में जबरदस्त गिरावट आई है। ये बीते 6 माह की सबसे बड़ी गिरावट है। इस वजह से निवेशकों को सिर्फ एक कारोबारी दिन में 4.75 लाख करोड़ रूपए का नुकसान हो गया है। अब सवाल है कि आखिर क्यों शेयर बाजार में इतनी बड़ी गिरावट आई है।

क्या है वजह : शेयर बाजार में गिरावट की कई वजह है। इनमें से एक वजह मॉर्गन स्टेनली की ताजा रिपोर्ट है। मॉर्गन स्टेनली ने भारतीय शेयर बाजार को डाउनग्रेड कर दिया है। इसके अलावा विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) द्वारा की जा रही बिकवाली की वजह से भी शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली है। विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने पिछले पांच सत्रों में भारतीय इक्विटी में 10,000 करोड़ रूपए से अधिक की बिक्री की है। जानकारों के मुताबिक रूस और चीन समेत कुछ देशों में ताजा कोविड के मामलों में वृद्धि की वजह से भी निवेशकों के बीच डर का माहौल आ गया है। इसके अलावा निवेशकों के बीच मुनाफावसूली का माहौल है। दिवाली से पहले निवेशक शेयर बेचकर मुनाफा कमाना चाहते हैं। इस वजह से भी गिरावट आई है। एक्सपर्ट इस गिरावट को वाजिब करेक्शन मान रहे हैं।

अक्टूबर में हुआ इतना नुकसान : अक्टूबर की शुरूआत में लगातार 7 दिनों तक शेयर बाजार में तेजी रही। इसके बाद पिछले आठ सत्रों में से छह कारोबारी सत्र में शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली है। पिछले आठ सत्रों में निवेशकों को 14 लाख करोड़ रूपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। इसमें से अकेले आज यानी गुरूवार के दिन 4.75 लाख करोड़ रूपए से ज्यादा की चपत लगी है।

गुरूवार को शेयर बाजार का हाल : बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 1,158 अंकों (1.89′) की गिरावट के साथ 59,984 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले 12 अप्रैल को सेंसेक्स में करीब 1700 अंकों की गिरावट आई थी। कहने का मतलब ये है कि पिछले 6 महीने की यह सबसे बड़ी गिरावट है। वहीं, यह सेंसेक्स का पिछले 20 दिनों का सबसे निचला स्तर है। बता दें कि 8 अक्टूबर को इसने 60 हजार का लेवल टच किया था।


Share