दवाओं की कालाबाजारी करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई : गहलोत

गहलोत सरकार के प्रमोटी प्रेम से नाखुश हैं र्आइएएस अधिकारी
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि दवाइयों और अन्य जरूरी सामान की जमाखोरी और कालाबाजारी करने वाले लोगों के खिलाफ राज्य सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। गहलोत ने आज सोशल मीडिया के जरिए यह बात कही। उन्होंने कहा कि वैश्विक कोरोना महामारी की विकट परिस्थितियों में भी कुछ लोग दवाइयों और अन्य जरूरी सामान की जमाखोरी और कालाबाजारी करने का निकृष्ट कृत्य कर रहे हैं। ऐसे लोगों पर राजस्थान सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।

कोविड-19 की दूसरी लहर में राजस्थान में दवाओं की किल्लत और कालाबाजारी को देखते हुए भी राज्य सरकार गंभीर बीमारियों की दवाओं के निर्माण की आत्मनिर्भरता की ओर कदम नहीं बढ़ा पा रही है। प्रदेश में इस समय दवा निर्माण से जुड़ी करीब 300 कंपनियां हैं, लेकिन इनमें गंभीर बीमारियों का निर्माण करने वाली कंपनियां नहीं के बराबर हैं।

प्रदेश में कोविड उपचार में काम आने वाली करीब आधा दर्जन दवाइयों व इंजेक्शन की भारी किल्लत है। ये दवाइयां अन्य राज्यों या विदेशों से मंगवानी पड़ रही हैं। रेमडेसिविर को लेकर खुद राज्य सरकार यह कह चुकी है कि जिन राज्यों में यह कंपनियां हैं, वहां से इनके आने देने में बाधाएं खड़ी की जा रही हैं।

इस समय किल्लत की बात करें तो प्रदेश में रेमडेसिविर इंजेक्शन, टोसीलीजुमेब इंजेक्शन, यूनिलेस्टिन इंजेक्शन, मेथिल प्रेडनिसोन इंजेक्शन और टेबलेट, एनोक्सेपेरिन इंजेक्शन, पिपेरक्लिन और टेजोबेक्टम इंजेक्शन और लिफोजेड एंबोटेरेसिन बी इंजेक्शन की मारामारी है।

राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना के शुक्रवार को डेढ हजार से अधिक कम मामले आने से नये मामलों की संख्या गिरकर 14 हजार के पास पहुंच गई जबकि इससे मरने वालो में भी थोडी कमी आई और आज 155 लोगों की मौत हुई।

चिकित्सा विभाग के अनुसार पिछले  24 घंटे में कोरोना के नये मामलों में 1578 मामले कम दर्ज हुए हैं। नये मामलों के बाद राज्य में कोरोना के मरीजों की संख्या बढकर 835,814 पहुंच गई। अब तक 616,589 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य सक्रिय मरीजों की संख्या 212,753 है। राज्य में पिछले 24 घंटों में 155 लोगों के और मृत्यु हो जाने पर इससे मरने वालों की संख्या बढकर 6472 पहुंच गई।राज्य में अब तक 9739918 लोंगो के नमूने लिए गए।


Share