पीठ में अकडऩ, कोहली दूसरे टेस्ट से हटे, पीठ में खराबी के चलते श्रेयस की जगह हनुमा को मिला मौका

Stiff in the back, Kohli withdrew from the second test
Share

जोहान्सबर्ग (एजेंसी)। टॉस से कुछ ही मिनट पहले दूसरे टेस्ट मैच से विराट कोहली के बाहर होने की खबर सामने आई। उनकी जगह राहुल टॉस के लिए आए। राहुल ने बताया कि कोहली पीठ के ऊपरी हिस्से में अकडऩ के कारण इस टेस्ट से बाहर हो गए हैं। कोहली की जगह हनुमा विहारी को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया है।

रविवार को कोहली प्रैक्टिस के दौरान बल्लेबाजी करने आए थे। वहीं, नए साल के मौके पर भी वह जमकर मस्ती करते हुए नजर आए थे। बता दें कि विराट कोहली और बीसीसीआई के बीच पिछले कई दिनों से काफी विवाद चल रहा है।

कोहली की जगह हनुमा विहारी को शामिल किया जाना थोड़ा सा हैरान करने वाला तो जरूर था क्योंकि सबको पता है कि श्रेयस अय्यर टेस्ट टीम में मौजूद हैं और अच्छी फार्म में भी हैं। अब श्रेयस अय्यर को विराट कोहली की जगह क्यों दूसरे टेस्ट मैच के लिए टीम में शामिल नहीं किया जा सका इसका कारण सामने आ गया है क्योंकि एक बात तो लगभग पक्का था कि अगर श्रेयस चयन के लिए उपलब्ध होते तो वो दूसरा टेस्ट मैच जरूर खेलते।

दरअसल जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक श्रेयस अय्यर के पेट में कीड़े हैं और इसकी वजह से वो दूसरे टेस्ट मैच से बाहर हो गए थे और चयन के लिए उपलब्ध नहीं थे। विराट के बाहर होने के बाद श्रेयस के लिए एक अच्छा मौका था, लेकिन ऐसा नहीं हो सका और हनुमा विहारी को टीम में शामिल किया गया जो इंडिया ए के साथ दक्षिण अफ्रीका दौरे पर पहले से ही मौजूद थे और दक्षिण अफ्रीका ए के खिलाफ उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की थी। वहीं विराट कोहली की जगह टीम का कप्तान केएल राहुल को बनाया गया तो वहीं उप-कप्तान जसप्रीत बुमराह को नियुक्त किया गया।

जहां तक श्रेयस अय्यर का सवाल है तो उन्होंने कानपुर टेस्ट मैच के जरिए भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था। न्यूजीलैंड के खिलाफ डेब्यू टेस्ट मैच की पहली पारी में ही उन्होंने 105 रन की पारी खेली थी तो वहीं दूसरी पारी में 65 रन बनाए थे। हालांकि ये टेस्ट मैच ड्रा हुआ था तो वहीं कीवी टीम के खिलाफ मुंबई टेस्ट मैच में उन्होंने 18 और 14 रन की पारी खेली थी। अय्यर ने अब तक दो टेस्ट मैचों में 50.50 की औसत से 202 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट स्कोर 105 रन रहा है।

जोहान्सबर्ग में चलता है भारत का सिक्का

जोहान्सबर्ग को टीम इंडिया का गढ़ कहा जा सकता है। दरअसल, भारतीय टीम इस मैदान पर आज तक एक भी टेस्ट मैच नहीं हारी है। यहां भारत ने कुल 5 टेस्ट खेले हैं, जिनमें से उसे दो में जीत मिली, जबकि तीन मैच ड्रॉ रहे हैं। 1992 में टीम इंडिया ने यहां पहला टेस्ट मैच खेला था। जबकि, आखिरी टेस्ट मैच 2018 में खेला था। इन 29 साल में साउथ अफ्रीका की टीम कभी भी भारतीय टीम को मात नहीं दे पाई है।


Share