पुणे में लगे- ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे , पुलिस कर रही जांच

Slogans of 'Pakistan Zindabad' raised in Pune, police are investigating
Share

पुणे। पुणे में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाले और एनआईए, एटीएस, ईडी की छापेमारियों के खिलाफ सड़कों पर उतरकर गैरकानूनी प्रदर्शन करने वाले 41 पीएफआई वर्कर्स के खिलाफ केस दर्ज होने और मुख्य आरोपीरियाज जैनूद्दीन सैय्यद को हिरासत में लेने के बाद अब इस संगठन के खिलाफ महाराष्ट्र में एक और बड़ी कार्रवाई हुई है। औरंगाबाद से एटीएस ने पीएफआई के स्टेट प्रेसिडेंट शेख नासिर शेख साबिर उर्फ नदवी को पकड़ लिया है। कोर्ट ने उसे 2 अक्टूबर तक पुलिस कस्टडी में भेजा है। शेख की उम्र 37 साल है और वह औरंगाबाद के बायजीपुरा इलाके का रहनेवाला है। उससे पूछताछ शुरू है।

देश विरोधी कार्रवाइयों से जुड़े होने के आरोप में आतंक निरोधी दस्ते (एटीएस) की टीम ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के महाराष्ट्र स्टेट प्रेसिडेंट को अरेस्ट किया है। एटीएस ने अपनी कार्रवाई में पीएफआई के और भी चार लोगों को पकड़ा था। उनके नाम शेख इरफान शेख सलीम उर्फ मौलाना इरफान मिल्ली, सैय्यद फैजल सय्यद खालील, परवेज खान मुजमिल खान, अब्दुल हादी, अब्दुल राउफ है। लेकिन पूछताछ के बाद एटीएस ने महाराष्ट्र स्टेट प्रेसिडेंट शेख नासिर शेख साबिर उर्फ नदवी को आखिर में गिरफ्तार कर लिया। शेख के खिलाफ देश में गड़बड़ियां फैलाने के लिए साजिश करने का आरोप है। शेख को पकड़ने के बाद एटीएस के स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने उसे नौ दिनों की पुलिस कस्टडी में भेज दिया। पुलिस उससे पूछताछ कर यह पता करने की कोशिश कर रही है कि उसे कहीं से टेरर फंडिंग तो नहीं की गई है। शेख के बैंक अकाउंट की तलाशी ली जा रही है। इस बात की जांच की जा रही है कि उसके अकाउंट में किन-किन खातों से पैसे ट्रांसफर हुए हैं। सरकारी वकील ने यही दलील देकर कोर्ट से शेख की पुलिस कस्टडी की मांग की थी। स्पेशल एटीएस कोर्ट ने यह मांग मानते हुए उसे 2 अक्टूबर तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया।

इस बीच एक और अपडेट यह है कि पुणे पुलिस उस वीडियो की जांच कर रही है, जिसके आधार पर यह दावा किया जा रहा है कि पुणे में पीएफआई के कार्यकर्ताओं ने एएनआई, एटीएस और ईडी की संयुक्त छापेमारियों के खिलाफ जिला कलेक्टर के ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करते वक्त ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाए। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस अपनी प्रतिक्रिया यह कह कर दी है कि अगर किसी ने नापाक इरादे से ऐसी कोई कार्रवाई की है, तो उसे छोड़ा नहीं जाएगा। सख्त कार्रवाई की जाएगी।


Share