राहुल गांधी के ट्रैक्टर से सिद्धू होंगे ‘री-लांच’

राहुल गांधी के ट्रैक्टर से सिद्धू होंगे 'री-लांच'
Share

चंडीगढ़ (एजेंसी)। कृषि सुधार कानून के विरोध में पंजाब में राहुल गांधी के ट्रैक्टर मार्च से पहले कांग्रेस की आंतरिक राजनीति में तेजी से बदलाव आने शुरू हो गए हैं। पार्टी प्रभारी हरीश रावत ने नाराज चल रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को मना लिया है। कांग्रेस की ओर से सिद्धू को 4 अक्टूबर से शुरू होने वाले ट्रैक्टर मार्च में ‘री-लांचÓ करने की तैयारी है। मालूम हो कि हरीश रावत ने गुरूवार को अमृतसर में जाकर नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात की थी। इसके बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का रूख भी बदल गया है। शुक्रवार को गांधी जयंती के मौके पर उन्होंने संकेत दिया है कि सिद्धू को पुन: ‘मुख्य धाराÓ में लाने में उनकी भी सहमति है। इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री ने सिद्धू की तारीफ भी की।

राहुल के सामने होगा एकजुटता का प्रदर्शन:- राहुल के सामने पार्टी की एकजुटता का भी परिचय दिया जाएगा। इसके लिए हरीश रावत ने मार्च में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री के धुर विरोधी राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा को भी आमंत्रित किया है। रावत ने बाजवा से तो संपर्क साधा लेकिन दूलो से उन्होंने अभी संपर्क नहीं किया है।

ट्रैक्टर को लेकर माथापच्ची:- राहुल गांधी का पंजाब में तीन दिन में 52 किलोमीटर की यात्रा ट्रैक्टर पर बैठ कर करेंगे। वह किस ट्रैक्टर पर बैठेंगे इसे लेकर खींचतान चल रही है। सुरक्षा एजेंसियां चाहती हैं कि राहुल बुलेटप्रुफ ट्रैक्टर में बैठें लेकिन पंजाब कांग्रेस सामान्य ट्रैक्टर पर यात्रा निकालना चाहती है। उसका मानना है कि अगर बुलेटप्रुफ ट्रैक्टर पर राहुल बैठते हैं तो इससे किसानों व आम लोगों में संदेश गलत जा सकता है। माना जा रहा है कि वह सामान्य ट्रैक्टर पर ही अपनी यात्रा करेंगे। मोगा में यात्रा की शुरूआत के समय राहुल खुद ट्रैक्टर चलाएंगे। उनके साथ ट्रैक्टर पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रदेश प्रभारी हरीश रावत मौजूद होंगे।

6 अक्टूबर को हरियाणा में प्रवेश करेगा ट्रैक्टर मार्च:- राहुल गांधी का ट्रैक्टर मार्च 4 अक्टूबर से निकाला जाएगा। माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के हाथरस में पुलिस से धक्का-मुक्की के दौरान राहुल गांधी को चोट लगने की वजह से इसे एक दिन आगे बढ़ाया गया है। पहले 2 अक्टूबर गांधी जयंती के मौके पर पंजाब से ट्रैक्टर मार्च को निकालना था, लेकिन सुरक्षा कारणों की वजह से इसे बाद में 3 अक्टूबर कर दिया गया था। राहुल 6 अक्टूबर को दोपहर बाद पटियाला मार्ग से हरियाणा के कुरूक्षेत्र के पेहवा में प्रवेश करेंगे और सोनीपत से सटे पानीपत के समालखा में उनका ट्रैक्टर मार्च खत्म होगा। सोनीपत के बरोदा हल्के में विधानसभा उपचुनाव के कारण आदर्श चुनाव आचार संहिता लग चुकी है।


Share