नारियल लेकर नहीं तो क्या शैंपेन की बोतल लेकर घूमूं

नारियल लेकर नहीं तो क्या शैंपेन की बोतल लेकर घूमूं
Share

मुरैना (एजेंसी)। मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर हो रहे विधानसभा उपचुनावों के वोटिंग की तारीख नजदीक आने के साथ-साथ सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है। राज्य की दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस के नेताओं में जुबानी जंग काफी तेज हो चुकी है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के नारियल वाले बयान पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने पलटवार किया है।

एक जनसभा को संबोधित करते हुए शिवराज ने कहा, ढेला भरका तुमने (कमलनाथ) काम नहीं किया। हम मुरैना में मेडिकल कॉलेज खोलेंगे तो नारियल फोड़ेंगे कि नहीं फोड़ेंगे। हम चंबल का पानी लाएंगे तो नारियल फोड़ेंगे कि नहीं फोड़ेंगे। हम बिठौरा में कॉलेज खोलेंगे तो नारियल फोड़ेंगे कि नहीं फोड़ेंगे। हम यहां की बिजली की लाइन बदलवाएंगे तो नारियल फोड़ेंगे कि नहीं फोड़ेंगे। तुमने कुछ किया ही नहीं, तुम्हारी तो किस्मत ही फूटी थी तो तुम नारियल कहां से फोड़ोगे। मुरैना विधानसभा के अंतर्गत आने वाले खडगपुर भर्राड में आयोजित एक जनसभा में कमलनाथ पर अपना हमला जारी रखते हुए शिवराज सिंह ने कहा, कहते हैं कि शिवराज तो नारियल लेकर घूमता है। नारियल लेकर नहीं घूमूं तो क्या शैंपेन की बोतल लेकर घूमूं। शिवराज सिंह ने आगे कहा, हमारे संस्कार अलग हैं। भारत की संस्कृति अलग है परंपराएं अलग हैं। नारियल तो देवी जी को चढ़ाते हैं।

नवरात्रि का समय है। हमारी संस्कृति हमारे संस्कार यही हैं। तो और गुस्सा हो गए कहने लगे शिवराज सिंह चौहान तो कलाकार है। हमने कहा हम तो सीधे-साधे किसान के बेटा हैं। जैत में कच्चे घर में पैदा हुए।


Share