‘धनुष-बाण’ पर चुनाव नहीं लड़ सकती शिवसेना

'धनुष-बाण' पर चुनाव नहीं लड़ सकती शिवसेना
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। शिवसेना बिहार विधानसभा चुनाव अपने चुनाव चिह्न यानी ‘धनुष-बाण’ पर नहीं लड़ पाएगी। शिवसेना सांसद अनिल देसाई ने विधानसभा के लिए पार्टी को नया चुनाव निशान आवंटित करने के लिए निर्वाचन आयोग को पत्र लिखा है। शिवसेना के बिहार राज्य प्रमुख कौशलेंद्र शर्मा ने इसकी पुष्टि की है।

शिवसेना ने चुनाव आयोग को तीन विकल्प दिए हैं। इसमें से चुनाव आयोग एक निशान आवंटित करेगा। संभावना जताई जा रही है कि इसी चुनाव चिह्न पर शिवसेना बिहार में 50 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। शर्मा ने कहा कि बिहार में सत्ताधारी दल जदयू की आपत्ति के बाद चुनाव आयोग ने साल 2019 के लोकसभा चुनाव में ही शिवसेना का चुनाव चिह्न जब्त कर लिया था।

जदयू की आपत्ति के बाद चुनाव आयोग ने रोक लगाई थी

जदयू ने चुनाव आयोग में शिवसेना के चुनाव चिह्न को लेकर आपत्ति दर्ज कराई थी। जदयू का कहना था कि हमारा चुनाव निशान शिवसेना के चिह्न से 99 प्रतिशत मिलता है। बिहार में चुनाव लडऩे वाली झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) का भी चुनाव चिह्न शिवसेना से मिलता-जुलता है। इसलिए चुनाव आयोग ने जदयू की आपत्ति के आधार पर शिवसेना का निशान जब्त कर लिया था। चुनाव आयोग के आदेश के अनुसार जदयू अगर महाराष्ट्र में चुनाव लड़ेगी तो पार्टी अपने निशान तीर पर उम्मीदवार नहीं उतार सकेगी।


Share