मुश्किल में शाहरूख का बेटा- 7 तक NCB की हिरासत में आर्यन

पिता शाहरुख से बात करते हुए रोया आर्यन खान
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। क्रूज पर रेव पार्टी में पकड़े गए शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान सहित तीन लोगों को सोमवार को कोर्ट में जमानत नहीं मिल पाई है। आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को 7 अक्टूबर तक एनसीबी की हिरासत में भेजा दिया गया है। 7 अक्टूबर को तीनों की फिर से पेशी होगी। एनसीबी को कोर्ट से अभी आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा की ही रिमांड मिली है। एनसीबी की कोशिश है कि बाकी 5 गिरफ्तार आरोपियों की भी रिमांड ले सके। आर्यन खान को एनसीबी की हिरासत में भेजे जाने से पहले उनके वकील सतीश मानेशिंदे ने काफी देर तक अपना पक्ष रखा।

आर्यन खान सहित तीन लोगों को लेकर किला कोर्ट में शाम को करीब 4 बजे सुनवाई शुरू हुई थी। एनसीबी की ओर से कोर्ट में एडिशनल सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा एक गैंग की तरह हैं। इनके फोन से ऐसी तस्वीरें और चैट्स मिली हैं, जो इशारा करती हैं कि ड्रग्स का यह रैकेट इंटरनैशनल मार्केट से जुड़ा हुआ है। हमें इनके कॉल डिटेल्स निकालने होंगे। पूछताछ और जांच का दायरा बढ़ाना होगा। इसलिए हमें रिमांड दी जाए, ताकि सभी से क्रॉस एग्जामिनेशन भी सके। और भी 5 आरोपी गिरफ्तार हुए हैं, उनसे भी पूछताछ की जानी है।

रिया चक्रवर्ती का हुआ जिक्र

अडिशनल सॉलीसिटर जनरल अनिल सिंह ने रिया चक्रवर्ती के मामले का हवाला देते हुए तर्क दिया कि एनडीपीसी एक्ट के तहत सभी अपराध गैर-जामनती हैं। उन्होंने कहा, एनसीबी ने आर्यन का फोन जब्त किया है और उसमें कई चैट्स ये बताते हैं कि उनका डीलर्स के साथ कनेक्शन है। वॉट्सऐप चैट से साफ है कि ये एक नेक्सस है और इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन भी हुए हैं। इस मामले में आगे की जांच जारी है। कैश का ट्रांजैक्शन हुआ है और आरोपियों ने पेड्लर्स से बात करने के लिए कोडवर्ड्स का इस्तेमाल किया है। इसलिए आरोपियों को रिमांड में आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करने की जरूरत है।

आर्यन को क्रूज पर हिरासत में नहीं लिया गया

आर्यन के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा, सच्चाई यह है कि आर्यन को क्रूज पर हिरासत में नहीं लिया गया। वह वहां स्पेशल गेस्ट के तौर पर इनवाइटेड थे और एक दोस्त के साथ वहां गए थे। क्रूज पर जाने के लिए एक भी पैसा नहीं दिया और न ही किसी ऑर्गनाइजर को जानते हैं। जो पंचनामा तैयार किया गया है, उसमें मोबाइल के अलावा किसी तरह की बरामदगी नहीं दिखाई गई है। वह केवल अरबाज मर्चेंट को जानते हैं, जिसके पास से 6 ग्राम चरस जब्त हुई है।

दूसरे आरोपियों को नहीं जानते आर्यन

मानशिंदे ने कहा, जो बरामदगी दिखाई गई हैं, वे दूसरे आरोपियों से हुई हैं और उन्हें आर्यन जानते तक नहीं हैं। पूछताछ के दौरान उनके वॉट्सऐप चैट्स डाउनलोड किए गए।


Share