शाहरूख के साथ नजर आई वकीलों की टीम जिसने आर्यन को दिलाई जमानत

शाहरूख के साथ नजर आई वकीलों की टीम जिसने आर्यन को दिलाई जमानत
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। कू्रज ड्रग्स केस में आर्यन खान को आखिरकार 25 दिन बाद जमानत मिल ही गई। निचली अदालत में आर्यन की जमानत अर्जी लगातार खारिज हो रही थी। लेकिन बॉम्बे हाई कोर्ट में जब मामला पहुंचा तो शाहरूख खान ने मुकुल रोहतगी जैसे बड़े वकील की भी सेवा ली। सतीश मानशिंदे पहले से ही केस की पैरवी कर रहे थे।

सतीश मानशिंदे और टीम के साथ शाहरूख

आर्यन को जमानत मिलने के बाद शाहरूख के चेहरे पर भी संतुष्टि के भाव दिखे। जमानत मिलने के बाद पहली बार शाहरूख सतीश मानशिंदे और उनकी लीगल टीम के साथ नजर आए। इसमें मानशिंदे का परिवार भी शामिल था। इससे साफ पता चलता है कि शाहरूख लगातार इस टीम के साथ बने हुए थे और बेटे आर्यन को जमानत दिलाने के लिए पूरी तरह सक्रिय थे।

वहीं सतीश मानशिंदे ने इसे सत्य की जीत बताया। उन्होंने कहा- आर्यन खान को आखिरकार बॉम्बे हाई कोर्ट से जमानत मिल गई। 2 अक्तूबर को गिरफ्तार किए जाने के बाद से ही आर्यन के पास कोई ड्रग्स नहीं, कोई सबूत नहीं, कोई सेवन नहीं, कोई साजिश नहीं। सत्यमेव जयते।

आर्यन को जमानत मिलने के बाद सतीश मानशिंदे की टीम का ‘सत्यमेव जयतेÓ  कहना समीर वानखेड़े के उस ट्वीट का जवाब भी माना जा रहा है जिसमें वह निचली अदालत से आर्यन की जमानत खारिज होने के बाद हर बार ‘सत्यमेव जयतेÓ कहते थे। आज ही आर्यन को जमानत मिली है और दूसरी तरफ वानखेड़े पर गिरफ्तारी की तलवार भी लटक रही है। इसी मौके पर ‘सत्यमेव जयतेÓ  का जिक्र कर सतीश मानशिंदे की टीम ने नहले पर दहला मारा है।


Share