इजरायली विशेषज्ञ का सनसनीखेज दावा- धरती पर छिपे हुए हैं एलियन्स

इजरायली विशेषज्ञ का सनसनीखेज दावा- धरती पर छिपे हुए हैं एलियन्स
Share

मंगल ग्रह पर बना रखा है गुप्त अड्डा

तेल अवीव (एजेंसी)। इजरायल के पूर्व अंतरिक्ष सुरक्षा प्रोग्राम के प्रमुख हैम इशेद ने दावा किया है कि ब्रह्मांड में एलियन मौजूद हैं और उनका अमेरिका तथा इजरायल के साथ संपर्क भी है। यही नहीं अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं। उन्होंने यह भी दावा किया कि एलयिन्स की मौजूदगी को अभी इसलिए छिपाकर रखा गया है क्योंकि मानवता अभी इसके लिए तैयार नहीं है। करीब 30 साल तक इजरायल के स्पेस सिक्यॉरिटी प्रोग्राम को संभालने वाले हैम इशेद ने कहा कि एक ‘गैलेक्टिक फेडरेशन’ बनाया गया है जो अमेरिका के साथ गुप्त समझौते के तहत मंगल ग्रह पर जमीन के अंदर एक अड्डा चला रहा है।

‘डोनाल्ड ट्रंप करने वाले थे खुलासा, एलियन्स ने रोका’

इशेद ने एक  इजरायली अखबार से बातचीत में दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप एलियन्स के बारे में खुलासा करने ही वाले थे कि परग्रहियों ने उन्हें रोक दिया। जीवन के 87 बसंत देख चुके इशेद ने कहा कि एलियन्स तब तक लोगों के सामने नहीं आएंगे जब तक कि मानवता विकसित होकर उस स्तर तक पहुंच नहीं जाती जब तक कि हम अंतरिक्ष और अंतरिक्षयान के बारे में अपनी समझ विकसित नहीं कर लेते हैं। इशेद ने यह नहीं बताया कि कितने लंबे समय से एलियंस छिपे हुए हैं लेकिन इतना कहा कि एलियंस के साथ कुछ संपर्क डोनाल्ड ट्रंप के कार्यकाल के दौरान हुए हैं। उन्होंने कहा कि पृथ्वी की यात्रा करने वाले एलियन्स और अमेरिका सरकार के बीच एक ‘समझौता’ हुआ है।

‘अमेरिका के साथ अंतरिक्ष को समझना चाहते हैं एलियन्स’

इजरायली विशेषज्ञ ने कहा कि परग्रही लोग अमेरिकी एजेंटों के साथ मिलकर ‘ब्रह्मांड के ताने-बाने’ को समझना चाहते हैं। इशेद ने कहा, एलियन्स से कहा गया है कि वे अपनी उपस्थिति के बारे में घोषणा नहीं करें क्योंकि मानवता अभी इसके लिए तैयार नहीं है। उन्होंने कहा, डोनाल्ड ट्रंप एक बार तो एलियन्स की मौजूदगी के बारे में ऐलान करने ही वाले थे लेकिन गैलेक्टिक फेडरेशन के एलियन्स ने उन्हें पहले इंतजार करने के लिए कहा ताकि लोग शांत हो सकें। वे लोगों में बहुत ज्यादा उन्माद नहीं शुरू नहीं करना चाहते हैं। एलियन्स चाहते हैं कि हम पहले मानसिक रूप से स्वस्थ और समझदार बनें। इशेद ने कहा कि उस स्थिति के आने तक एलियन्स ने अपनी गतिविधियों को गुप्त रखने के लिए समझौता किया है।

‘एलियन्स और अमेरिका के बीच हुआ है गुप्त समझौता’

इजरायली विशेषज्ञ ने कहा, अमेरिका सरकार और एलियन्स के बीच समझौता हुआ है। एलियन्स ने यहां पर परीक्षण करने के लिए हमारे साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है। वे भी पूरे ब्रह्मांड के ताने-बाने पर शोध कर रहे हैं और उसे समझने का प्रयास कर रहे हैं। वे चाहते हैं कि हम इस काम में उनकी मदद करें। उन्होंने कहा, मंगल ग्रह की गहराइयों में एलियन्स का एक अड्डा है। वहां पर एलियन्स के प्रतिनिधि और अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री मौजूद हैं। पूर्व इजरायली सुरक्षा चीफ ने दावा किया कि वह आगे जरूर आए हैं लेकिन उन्हें इस बात की आशा नहीं है कि उनके खुलासे को सत्य के रूप में स्वीकार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर इस खुलासे को उन्होंने 5 साल पहले किया होता तो उन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया गया होता।

‘एलियन्स ने पृथ्वी पर परमाणु त्रासदी को रोकने में मदद की’

इशेद ने कहा कि जहां-जहां पर वह इस जानकारी को लेकर गए वहां-वहां पर यह कहा गया कि यह व्यक्ति पागल हो गया है। उन्होंने कहा, मेरे पास खोने के लिए कुछ नहीं है। मुझे मेरी डिग्री और अवार्ड मिले हैं। मैं दुनियाभर के विश्वविद्यालयों में सम्मानित किया गया हूं जहां पर भी ट्रेंड बदल रहे हैं। इजरायली विशेषज्ञ ने अपनी एक किताब भी लिखी है जिसमें उन्होंने दावा किया है कि किस तरह से एलियन्स ने पृथ्वी पर परमाणु त्रासदी को रोकने में मदद की है। प्रोफेसर इशेद जब वर्ष 2011 में रिटायर हुए थे तब इजरायली मीडिया ने उन्हें ‘इजरायल के सैटलाइट कार्यक्रम का जनक करार दिया था। उन्होंने अपनी किताब में यूएफओ को लेकर कई सिद्धांतों के बारे में जिक्र किया है। ईशेद ने एक शोधकर्ता के हवाले से कहा कि अंतरिक्ष में केवल इंसान ही नहीं है।


Share