RTU कुलपति 5 लाख की घूस लेते ट्रैप – सरकारी गेस्ट हाउस में ठहरे थे, कमरे में 21 लाख कैश मिला

RTU कुलपति 5 लाख की घूस लेते ट्रैप
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी (आरटीयू) कोटा के कुलपति डॉ. रामावतार गुप्ता को 5 लाख रूपए की रिश्वत लेते पकड़ा। एसीबी जयपुर की टीम ने कुलपति के कमरे से 21 लाख रूपए भी कैश बरामद किए हैं। कार्रवाई गुरूवार को एमएनआईटी जयपुर कैंपस में बने सरकारी गेस्ट हाउस में की गई।

एसीबी डीजी बीएल. सोनी ने बताया कि वॉट्सऐप हैल्पलाइन पर परिवादी ने शिकायत दी थी। कहा गया था कि प्राइवेट यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग की सीटें बढ़ाने, सुविधाएं उपलब्ध कराने व परेशान नहीं करने की एवज में डॉ. रामावतार गुप्ता 10 लाख रूपए की रिश्वत मांग रहे हैं।

एसीबी के एएसपी पुष्पेंद्र राठोर के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया गया। ट्रैप के मुताबिक डॉ. रामावतार गुप्ता ने परिवादी को 5 लाख रूपए लेकर एमएनआईटी जयपुर कैंपस में बने सरकारी गेस्ट हाउस में बुलाया। जहां एसीबी टीम ने कुलपति को घूस लेते गिरफ्तार कर लिया। एसीबी टीम ने जब कमरे में सर्च ऑपरेशन किया तो वहां 21 लाख रूपए कैश भी मिला। जो रिश्वत के 5 लाख रूपए के अलावा है।

21 लाख कहां से आए, होगी पूछताछ

सरकारी गेस्ट हाउस की तलाशी में मिले 21 लाख रूपए कहां से आए फिलहाल इसकी जांच होगी। एसीबी अधिकारियों की मानें तो यह संदिग्ध राशि भी अन्य परिवादियों से घूस का हिस्सा हो सकती है। एसीबी अधिकारियों के मुताबिक डॉ. रामावतार गुप्ता पिछले चार दिन से इसी गेस्ट हाउस में रूके हुए थे।


Share