बिहार में सबसे बड़ी पार्टी बनी आरजेडी, ओवैसी के 4 विधायक लालू की पार्टी में शामिल

RJD becomes the largest party in Bihar, 4 MLAs of Owaisi join Lalu's party
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार विधानसभा में आरजेडी फिर सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के चार विधायकों के शामिल होने के बाद आरजेडी के कुल एमएलए की संख्या 80 हो गई है। तेजस्वी यादव की मौजूदगी में एआईएमआईएम के 4 विधायकों ने बुधवार को आरजेडी की सदस्यता ली। वहीं, भाजपा फिर से दूसरे नंबर पर पहुंच गई है। भाजपा के अभी विधानसभा में 77 विधायक हैं।

2020 में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद 75 विधायकों के साथ आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी बनी थी। उपचुनाव में एक सीट पर जीत मिलने के बाद आरजेडी के विधायकों की संख्या 76 हो गई। इसी साल मार्च महीने में भाजपा ने मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) को तोड़कर उसके तीनों विधायकों को अपने खेमे में शामिल कर दिया था। इसके बाद आरजेडी को पीछे छोड़कर भाजपा 77 विधायकों के साथ बिहार में सबसे बड़ी पार्टी बन गई।

पिछले कुछ दिनों से तेजस्वी यादव आरजेडी को फिर से नंबर वन पार्टी बनाने की कवायद में जुटे थे। इसके लिए वे एआईएमआईएम के नेताओं के संपर्क में थे। तेजस्वी एआईएमआईएम का अपनी पार्टी में विलय करवाना चाहते थे। हालांकि, बिहार में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी के 5 में से 4  विधायक तो मान गए, लेकिन एक विधायक अख्तरूल ईमान जो एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं; आरजेडी में जाने के लिए राजी नहीं हुए। जो विधायक एआईएमआईएम छोड़कर आरजेडी में शामिल हुए हैं, उनके नाम शाहनवाज, मोहम्मद अनजर नईमी, मोहम्मद इजहार असफी और सैयद रूकनुद्दीन हैं। इनके आने के बाद आरजेडी के कुल विधायकों की संख्या 80 हो गई है।


Share