रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में नहीं किया बदलाव- आने वाले दिनों में बढ़ सकती है महंगाई

Reserve Bank did not change interest rates - Inflation may increase in the coming days
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।   रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने बुधवार को अपनी दो महीनों में होने वाली (द्विमासिक) मौद्रिक नीति समीक्षा के नतीजों की घोषणा की। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने इसके नतीजों का ऐलान करते हुए बताया कि रेपो और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है। यानी, अब लोन की दरों में कोई राहत नहीं मिलेगी और आपके निवेश पर भी ज्यादा ब्याज मिलने की संभवना कम हो गई है। अभी रेपो रेट 4′ और रिवर्स रेपो रेट 3.35′ है। आरबीआई ने लगातार 9वीं बार रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया है। रेपो रेट अप्रैल 2001 के बाद से सबसे निचले स्तर पर हैं।

जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 9.5′ बरकरार

आरबीआई ने इस वित्त वर्ष 2021-22 के लिए जीडीपी ग्रोथ अनुमान 9.5′ बरकरार रखा है। एक्सपर्ट्स ने पहले ही यह कहा था कि अर्थव्यवस्था में रिकवरी को और मजबूत करने के लिए आरबीआई अभी दरों में बदलाव नहीं करेगा।

रिजर्व बैंक के मुताबिक इस वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में जीडीपी ग्रोथ 6.6′ और चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में 6′ रह सकती है।

जनवरी से बढ़ सकती है महंगाई

शक्तिकांत दास ने कहा कि महंगाई हमारे पहले के अनुमान के मुताबिक ही है। रबी की अच्छी फसल होने की वजह से आगे कीमतें कम होंगी। सब्जियों की कीमतों में भी कमी आ सकती है। हालांकि, इस वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में महंगाई पीक पर जाएगी, लेकिन उसके बाद इसमें कमी आएगी।

कोरोना की दूसरी लहर के झटकों से उबर रही इकोनॉमी

केंद्रीय बैंक ने वित्त वर्ष 2022 के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) इंफ्लेशन के 5.3′ पर रहने का अनुमान लगाया है। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि दूसरी लहर के झटकों से इकोनॉमी उबर रही है और इसमें तेजी आ रही है, लेकिन यह लंबे समय तक कायम होती नहीं दिख रही है। शक्तिकांत दास के मुताबिक इकोनॉमिक रिकवरी लंबे समय तक बनी रहे, इसके लिए पॉलिसी सपोर्ट जरूरी है।

बढ़ सकती है तेल की मांग

उन्होंने बताया कि आंकड़ों से मांग के सुधरने के संकेत मिल रहे हैं। कृषि सेक्टर की मदद से ग्रामीण मांग में भी सुधार हो रहा है। शक्तिकांत दास ने कहा कि तेल की एक्साइज ड्यूटी और वैट में कटौती से मांग में बढ़ोतरी की संभावना है।

फीचर फोन के लिए तैयार होगा पीआई सिस्टम पेमेंट सिस्टम

शक्तिकांत दास ने कहा कि डिजिटल पेमेंट में विभिन्न चार्जेज को किफायती बनाने के लिए एक स्टडी की जाएगी। डिजिटल पेमेंट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए फीचर फोन आधारित पीआई सिस्टम पेमेंट सिस्टम तैयार किया जाएगा। इसी तरह रिटेल डायरेक्ट जीसेक और आईपीओ में पीआई से पेमेंट करने की लिमिट 2 से बढ़ाकर 3 लाख की जाएगी।


Share