रीट पेपर लीक मामला: पायलट ने गहलोत राज पर उठाए सवाल

Gujarat will become the victory path for Rajasthan CM chair, CM Ashok Gehlot on a four-day tour of Gujarat, 7 Sachin Pilot will also visit Gujarat on October 31
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने रीट पेपर लीक के जरिए इशारों ही इशारों में गहलोत सरकार पर सवाल उठाए है। सचिन पायलट ने कहा कि रीट पेपर लीक होना गंभीर मुद्दा है। जांच ईमानदारी और पारदर्शी तरीके से होनी चाहिए। पेपर लीक की सीबीआई से जांच कराने की मांग पर पायलट ने कहा कि जांच कोई भी करे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। चाहे वह कितना भी प्रभावशाली हो क्योंकि इससे सवा करोड़ परिवार प्रभावित हो रहे हैं। रीट परीक्षा का मुद्दा बेरोजागारों से जुड़ा हुआ मुद्दा है। पायलट ने कहा कि एसओजी जांच कर रही है। नए तथ्य भी सामने आ रहे हैं। हम चाहते हैं कि सिस्टम के अंदर जनता और नौजवानों का इकबाल कायम रहें। मुद्दा सुर्खियों से नहीं हटना चाहिए।

इशारों के संकेत मंत्री सुभाष गर्ग की तरफ

पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के ‘कितना प्रभावशाली और बड़े होने’ के बयान को मंत्री सुभाष गर्ग से जोड़कर देखा जा रहा है। पेपर लीक मामले में तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग पर आरोप लग रहे हैं। सुभाष गर्ग और राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष रहे डीपी जारौली घनिष्ठ मित्र बताए जाते हैं। खुद मंत्री सुभाष गर्ग ने जारौली के साथ मित्रता की बात स्वीकर की है। हालांकि, पेपर लीक मामले में मंत्री सुभाष गर्ग का कहना है कि जांच एजेंसी ईमानदारी से काम कर रही है।

जांच पर भरोसा करना चाहिए। गर्ग का कहना है कि यह भी जांच होनी चाहिए कि पेपर लीक के दस्तावेज उन लोगों तक कैसे पहुंचे हैं जो सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मंत्री सुभाष गर्ग गहलोत कैंप के माने जाते हैं। पिछले साल पायलट की बगावत के समय सुभाष गर्ग ने सीएम गहलोत का साथ दिया था।


Share