रीट विवाद: राजस्थान विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ने की कार्रवाई | मंत्री गर्ग समेत चार को किया कार्यकारिणी से बाहर, डॉ. बीएस बैरवा के अधिकार किए सीज

Reet controversy: Rajasthan University Teachers Association took action, four including Minister Garg were out of the executive, seized the rights of Dr. BS Bairwa
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में रीट भर्ती परीक्षा में हुई धांधली के बाद शिक्षा विभाग में तैनात शिक्षकों और उच्च शिक्षा मंत्री सुभाष गर्ग के खिलाफ विरोध लगातार बढ़ रहा है। रविवार को राजस्थान विश्वविद्यालय और महाविद्यालय शिक्षक संघ रूकता ने आयुर्वेदिक और तकनीकी राज्य मंत्री सुभाष गर्ग को संरक्षक के पद से हटा दिया। इसके साथ ही संघ ने प्रदीप पाराशर डॉक्टर सुभाष यादव और बने सिंह को कार्यकारिणी से बर्खास्त कर दिया है। जबकि डॉ बीएस बेरवा के अधिकारों को सीज कर दिया गया है।

संघ के सदस्य डॉ अरविंद वर्मा ने बताया कि रीट मामले को लेकर कार्यकारिणी की आपात बैठक में मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग को संगठन के संरक्षक पद से मुक्त किया गया है। इसके अलावा राजस्थान यूूनिवर्सिटी में देराश्री शिक्षक सदन के प्रभारी पद से प्रदीप पाराशर को, डा सुभाष यादव को प्रवक्ता और बनय सिंह को प्रदेश संगठन मंत्री पद से मुक्त करने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा बी एस बैरवा के कार्यकारिणी सदस्य बतौर सभी अधिकार सीज कर दिए गए हैं।

दरअसल, रीट पेपर लीक प्रकरण के बाद विपक्ष और छात्र संगठन लगातार मंत्री सुभाष गर्ग के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा है। वहीं विपक्ष की मांग के बाद जहां शिक्षक संगठनों ने मंत्री गर्ग को कार्यमुक्त कर दिया है। जबकि छात्र संगठन अब गर्ग को बर्खास्त करने की मांग करने लगे हैं। ऐसे में देखना होगा सरकार विपक्ष और छात्र संगठनों की मांग पर क्या कदम उठाता है।


Share