रीट संपन्न : कड़ी निगरानी में हुई राज्य की सबसे बड़ी परीक्षा – बस्सी में नकल पर हंगामा- लाठीचार्ज

रीट संपन्न : कड़ी निगरानी में हुई राज्य की सबसे बड़ी परीक्षा - बस्सी में नकल पर हंगामा- लाठीचार्ज
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान के इतिहास में प्रदेश की सबसे बड़ी राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (क्रश्वश्वञ्ज) के लेवल-1 व लेवल-2 की परीक्षा खत्म हो गई है। परीक्षा सेंटर्स पर पुलिस की कड़ी निगरानी रही। पहली पारी में रीट लेवल-2 व दूसरी पारी में लेवल-1 में कड़ी सुरक्षा के बीच सभी अभ्यर्थियों को एंट्री दी गई। लेवर-2 की परीक्षा में अलवर के साथ-साथ जयपुर के बस्सी में भी जमकर हंगामा हुआ है। यहां पुलिस को लाठीचार्ज तक करना पड़ा है। फिलहाल तनाव की स्थिति बनी हुई है। जयपुर के बस्सी के अलावा राज्य के कई जिलों में नकल, पेपर आउट, परीक्षा में नहीं बैठने देने, पेपर देरी से देने और पेपर की सील खुली होने को लेकर कई जगह हंगामा हुआ, पुलिस और प्रशासन को पहुंचना पड़ा।

गंगापुर सिटी में रीट परीक्षा में नकल करवाते 2 कांस्टेबल समेत 8 गिरफ्तार

गंगापुर सिटी। गंगापुर सिटी में रीट में नकल कराते हुए 2 पुलिस कांस्टेबल के साथ करीब 8 जनों को एसओजी ने गिरफ्तार किया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हिमांशु शर्मा ने कोतवाली थाने में बैठक ली। बैठक में एसओजी के कई बड़े अधिकारी मौजूद रहे। गिरफ्तार सभी 8 लोगों को कोतवाली थाने में एक-एक कर लाया गया।

पुलिस व एसओजी टीम ने शहर में कई जगह दबिश दी जा रही है। कई निजी शिक्षण संस्थानों में आए केंद्रों पर भी गाज गिर सकती है। जयपुर में गिरफ्तार रीट परीक्षा में फर्जीवाड़ा करने वाली आरोपी प्रमिला ओर अनन्या विश्नोई भी इसी गैंग में शामिल होने की संभावना है । 2 दिन पूर्व गिरफ्तार देशराज मीना भी इसी गैंग में शामिल है।एसओजी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतवीर सिंह व गंगापुर सिटी अतिरिक्त पुलिस हिमांशु शर्मा ने बताया कि रीट परीक्षा में आंसर-की के सहारे चीटिंग की सूचना मिली। जिनके तार जयपुर से भी जुड़े हुए है। एक टीम को जयपुर भेजा गया है। कार्रवाई करते हुए पुलिस कांस्टेबल देवेंद्र सिंह व उसकी पत्नी लक्ष्मी गुर्जर और यदुवीर सिंह व उसकी पत्नी सीमा गुर्जर के साथ अन्य आशीष मीना, उषा मीना, मनीषा मीना निवासी भारजा नदी व एक अन्य दिलखुश मीना को पकड़ा है।

चप्पल में ब्लूटूथ

सीकर के नीमकाथाना में गंगा बाल निकेतन में बीकानेर के परीक्षार्थी उदयराम को पकड़ा गया है। चप्पल में ब्लूटूथ के साथ, कान में ऑपरेशन लगाकर डिवाइस लगाई हुई थी। उदयराम को कोतवाली थाने लेकर गए हैं। किशनगढ़ के तेली मोहल्ला स्थित आचार्य धर्मसागर स्कूल में ब्लू टूथ डिवाइस के माध्यम से नकल का प्रयास करते एक नकलची पकड़ा है। चूरू निवासी आरोपी गणेशा राम के पास में जो ब्लूटूथ में सिम मिली है।

हुए लेट तो बंद हुए गेट

सीकर में कुछ लड़कियां लेट हो गईं, प्रवेश नहीं मिला तो गेट खटखटाते हुए रोती रहीं, अजमेर में गुजरात से आई एक महिला का प्रवेश पत्र गुम होने से वह लेट हो गई और उसे प्रवेश नहीं दिया गया तो वह रोने लगी। सीकर में कुछ लड़कियां लेट हो गईं, प्रवेश नहीं मिला तो गेट खटखटाते हुए रोती रहीं, अजमेर में गुजरात से आई एक महिला का प्रवेश पत्र गुम होने से वह लेट हो गई और उसे प्रवेश नहीं दिया गया तो वह रोने लगी। लेट पहुंचीं तो रोती-चिल्लाती रहीं लड़कियां, बोलीं- सर गेट खोल दो, करियर खराब हो जाएगा। सीकर में तीन-चार युवतियां कुछ मिनट देरी से अपने परीक्षा केंद्र पर पहुंचीं। गेट बंद था। गेट खटखटाया तो अंदर से मना हो गया। वे रोने लगीं। बोलीं- सर गेट खोल दो, अभी तो परीक्षा शुरू होने में समय है। हमने सालों से इसके लिए सपने देखे हैं, तैयारी की है,    गेट खोल दो प्लीज सर, हमारा करियर खराब हो जाएगा। अंदर से कोई रिएक्शन नहीं आया। फिर एक ट्रैफिककर्मी ने उन्हें गेट से भी दूर कर दिया। अजमेर में गुजरात के दाहोद से आई एक महिला प्रवेश पत्र खो जाने पर दुबारा लाने के कारण लेट हो गई। उसे प्रवेश नहीं दिया तो रोने लगी। परीक्षा देने आई दमयंती तंवर शनिवार को ही अजमेर आ गई थी और अपने रिश्तेदार के यहां रूकी थी। सुबह ठीक नौ बजे से पहले सेन्ट्रल गर्ल्स स्कूल के केन्द्र पर पहुंच गई। तंवर ने बताया कि जब यहां प्रवेश के लिए लगी कतार के दौरान प्रवेश पत्र ढूंढा तो नहीं मिला। ऐसे में बिना प्रवेश पत्र के प्रवेश नहीं दिया। वह दूसरी कॉपी लेकर पहुंची भी, लेकिन समय होने के बाद भी प्रवेश नहीं दिया।


Share