रामविलास पासवान का निधन

रामविलास पासवान का निधन
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का गुरूवार को दिल्ली में निधन हो गया है। वे 74 साल के थे। वे पिछले कुछ दिनों से बीमार थे और दिल्ली के एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में भर्ती थे। उनके बेटे चिराग पासवान ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। पिता रामविलास पासवान के निधन के बाद चिराग ने ट्वीट किया- पापा….अब आप इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन मुझे पता है आप जहां भी हैं हमेशा मेरे साथ हैं। मिस यू पापा। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर पीएम मोदी ने शोक जताया। कहा- उनके निधन का दुख शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है।

उनके जाने से जो जगह खाली हुई है, उसे कोई नहीं भर सकता है। रामविलास पासवान जी का निधन मेरी निजी क्षति है। मैंने एक दोस्त, मूल्यवान सहयोगी और गरीबों के जीवन सम्मान से बीते ऐसा सुनिश्चित करने वाला शख्स खोया है। रामविलास पासवान ने आखिरी बार 19 सितंबर को ट्वीट किया था। रामविलास पासवान ने आखिरी ट्वीट विदेश मंत्री एस जयशंकर की माताजी के निधन पर दुख प्रकट करते हुए कहा था। केंद्रीय मंत्री पासवान ने ट्वीट किया था- विदेश मंत्री एस जयशंकर जी की माताजी के निधन का दुखद समाचार प्राप्त हुआ। भगवान उनकी आत्मा को शांति दें और जयशंकर जी व समस्त परिवार जनों को शोक की इस घड़ी में दु:ख सहन करने का संबल प्रदान करें। ॥? शांति॥

कुछ दिन पहले ही हुई थी हार्ट सर्जरी

केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान पिछले करीब एक महीने से दिल्ली के अस्पताल में भर्ती थे। एम्स में 2 अक्टूबर की रात को उनकी हार्ट सर्जरी की गई थी। यह पासवान की दूसरी हार्ट सर्जरी थी। तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चिराग पासवान को फोन कर केंद्रीय मंत्री के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली थी।

 


Share