पंचतत्व में विलीन हुए रामविलास

पंचतत्व में विलीन हुए रामविलास
Share

पटना (एजेंसी)। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का राजकीट सम्मान के साथ दीघा घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। बेटे चिराग पासवान ने पिता को मुखाग्नि दी। लेकिन इस दौरान वह बेसुध हो कर नीचे गिर पड़े। वहां मौजूद लोगों ने चिराग को संभाला। दीघा घाट पर अंतिम विदाई देने के लिए हजारों की संख्या में समर्थक जुटे। दीघा घाट पर राजकीय सम्मान के साथ केंद्रीय मंत्री को अंतिम विदाई दी गई। सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, गिरिराज सिंह, नित्यानंद राय, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव भी मौजूद थे। सभी नेताओं ने बारी-बारी पार्थिव शरीर पर पुष्प माला अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। लंबी बीमारी के बाद राम विलास पासवान का निधन हो गया था। 74 साल के रामविलास पासवान कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। उनका पार्थिव शरीर शुक्रवार शाम पांच बजे दिल्ली से पटना पहुंचा। एयरपोर्ट पर रामविलास पासवान के अंतिम दर्शनों के लिए समर्थकों की भारी भीड़ देखी गई।


Share