राजस्थान बजट 2022, 60 लाख घरेलू उपभोक्ताओं को 50 यूनिट फ्री बिजली, महिलाओं को मोबाइल के साथ इंटरनेट

Rajasthan budget 2022, 50 units free electricity to 60 lakh domestic consumers, internet with mobile to women
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)।  सीएम अशोक गहलोत ने अपने तीसरे कार्यकाल का चौथा बजट पेश कर दिया। इसमें फ्री मोबाइल से लेकर इलाज और मुफ्त बिजली की घोषणाएं की गई हैं। 60 लाख उपभोक्ताओं को जहां 50 यूनिट फ्री बिजली मिलेगी तो 1.33 करोड़ महिलाओं को इंटरनेट सहित स्मार्ट फोन दिया जाएगा। जयपुर में मेट्रो विस्तार के तहत दूसरे फेज को मंजूरी दी गई है।

मुफ्त बिजली की घोषणा के तहत राजस्थान में 100 यूनिट तक बिजली यूज करने वाले लोगों से 50 यूनिट के पैसे नहीं लिए जाएंगे। 100 यूनिट से ज्यादा बिजली का उपभोग अगर उपभोक्ता करता है तो 150 यूनिट तक 3 रूपए और 150 से 300 यूनिट तक 2 रूपए प्रति यूनिट की छूट मिलेगी। इस सब्सिडी पर सरकार 4,000 करोड़ रुपए खर्च करेगी।

मानसरोवर से बड़ी चौपड़ मेट्रो रूट का विस्तार

राजधानी में अभी मेट्रो मानसरोवर से चांदपोल और चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक 2 रूटों पर चल रही है। इसी रूट का विस्तार करते हुए मेट्रो बड़ी चौपड़ से दिल्ली बाइपास स्थित ट्रांसपोर्ट नगर और मानसरोवर से अजमेर बाईपास का रूट जोड़ा जाएगा।

जयपुर की तर्ज पर उदयपुर और कोटा विकास प्राधिकरण

अजमेर, जोधपुर और जयपुर की तर्ज पर अब उदयपुर व कोटा में भी यूआईटी को क्रमोन्नत कर विकास प्राधिकरण बनाया जाएगा। इस नई घोषणा के बाद उदयपुर-कोटा क्षेत्र के कई गांव जो अभी राजस्व विभाग (जिला कलेक्ट्रेट) के दायरे में आ रहे है उन गांवों को विकास प्राधिकरण के क्षेत्राधिकार में लाया जाएगा। इन क्षेत्र का नए सिरे से मास्टर प्लान बनेगा।

हर विधानसभा क्षेत्र में तैयार होगा सड़कों का नेटवर्क

हर विधानसभा क्षेत्र में ग्रामीण क्षेत्र की सड़कों के नवीनीकरण के लिए 10 करोड़ रूपए देने की घोषणा की। इसके तहत 7 करोड़ रूपए में तो सड़कों के गड्ढे भरने और पेच रिपेयर किए जाएंगे, जबकि 3 करोड़ रूपए से मिसिंग लिंक के काम को करवाया जाएगा। इससे पहले सरकार हर साल हर विधानसभा क्षेत्र को 5 करोड़ रूपए का बजट इन कार्यों के लिए देती थी।

कैशलेस बीमा कवर बढ़ाकर 10 लाख तक किया

पिछले बजट में कैशलेस मेडिकल पॉलिसी के तौर पर मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना लागू की थी। इसमें 5 लाख रूपए तक का कैशलेस इलाज की सुविधा थी। अब इसे बढ़ाकर 10 लाख रूपए करने की घोषणा की है।


Share