पंजाब और राजस्थान रायल्स का मुकाबला आज, प्लेआफ की उम्मीदें जिंदा रखने उतरेंगी टीमें

Punjab and Rajasthan Royals match today, teams will come to keep playoff hopes alive
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान रायल्स बल्लेबाजी की अपनी कमियों को दूर करके पंजाब किंग्स के खिलाफ शनिवार को यहां होने वाले आइपीएल मैच में जीत की राह पर लौटने की कोशिश करेगा। रायल्स की टीम एक समय शीर्ष स्थान के लिए गुजरात टाइटंस को कड़ी टक्कर दे रही थी, लेकिन हाल में उसका प्रदर्शन गड़बड़ा गया। दूसरी ओर, पंजाब अंक तालिका में शीर्ष पर चल रही गुजरात पर आठ विकेट की जीत से उत्साह से भरी है।

मयंक अग्रवाल की अगुआई वाली टीम पंजाब प्लेआफ की अपनी उम्मीदें बनाए रखने के लिए अपना विजय अभियान जारी रखना चाहेगी। राजस्थान अभी अंक तालिका में तीसरे स्थान पर है और इसका मुख्य श्रेय जोस बटलर को जाता है जिन्होंने अब तक वर्तमान टूर्नामेंट में सर्वाधिक 588 रन बनाए हैं। शीर्षक्रम के दो अन्य बल्लबाज देवदत्त पडिक्कल और कप्तान संजू सैमसन टुकड़ों में ही अच्छा प्रदर्शन कर पाए हैं। इन दोनों को अधिक जिम्मेदारी लेने की जरूरत है।

टीम नंबर चार पर भिन्न खिलाडिय़ों को आजमाती रही है और यदि शिमरोन हेटमायर को इस स्थान पर उतारा जाता है तो उसके चोटी के चार बल्लेबाज किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकते हैं। राजस्थान को पहले बल्लेबाजी करने की स्थिति में बड़ा स्कोर बनाने की जरूरत है क्योंकि उसे चार में से तीन हार तब मिलीं जब उसने पहले बल्लेबाजी करते हुए बड़ा स्कोर नहीं बनाया। राजस्थान का गेंदबाजी आक्रमण मजबूत है, लेकिन पिछले दो मैचों में उसके गेंदबाज 158 और 152 रन के स्कोर का बचाव नहीं कर पाए थे। यह निश्चित तौर पर कम स्कोर था क्योंकि अभी टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले युजवेंद्रा सिंह चहल, रविचंद्रन अश्विन, ट्रेंट बोल्ट, कुलदीप सेन और प्रसिद्ध कृष्णा ने प्रभावशाली गेंदबाजी की है। पंजाब के बल्लेबाजों के लिए रायल्स की गेंदबाजी का सामना करना आसान नहीं होगा। पंजाब की बल्लेबाजी में निरंतरता का अभाव है। शिखर धवन अभी टीम के सबसे सफल बल्लेबाज हैं। लियाम लिविंगस्टोन और भानुका राजपक्षे ने भी बीच-बीच में अच्छी बल्लेबाजी की है, लेकिन उन्हें मिलकर अच्छा खेल दिखाना होगा। जानी बेयरस्टो अभी अपनी ख्याति के अनुरूप विस्फोटक बल्लेबाजी नहीं कर पाए हैं, जबकि अग्रवाल का बल्ला भी नहीं चल पा रहा है, जो टीम के लिए चिंता का विषय है। कैगिसो रबादा ने पिछले दो मैचों में चार-चार विकेट लेकर फार्म में वापसी की है। अर्शदीप सिंह ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की है। उन्होंने अधिक विकेट नहीं लिए, लेकिन किफायती गेंदबाजी की है।


Share