कांकरिया डूंगर से उतरे प्रदर्शनकारियों ने किया पुलिस पर पथराव, वाहन फूंके

कांकरिया डूंगर से उतरे प्रदर्शनकारियों ने किया पुलिस पर पथराव
Share

कांकरी डूंगरपुर (प्रासं)। भील आरक्षण समन्वय समिति के नेतृत्व में कांकरी डूंगरी पर एक पखवाड़े से चल रहे महापड़ाव के बाद लगातार राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करने की चेतावनी व मांगें नहीं माने जाने से खफा आंदोलनकारियों का सब्र का बांध टूट गया। आखिरकार गुरूवार सुबह से ही कांकरी डूंगरी पर हजारों की संख्या में समाज के युवा पहुंच गए व एक ही बात पर अडे अड़ गए कि 24 सितम्बर के अलटीमेटम के बाद भी सरकार द्वारा इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की गई।

इस पर दोपहर बाद अचानक हजारों युवा भुवाली की पहाडिय़ों से नेशनल हाईवे पर आ गये और मार्ग को अवरूद्ध कर दिया जिससे दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गईं। इधर घटना की जानकारी मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गणपति महावर, बिछीवाडा थाना प्रभारी सहित पुलिस लाईन का जाप्ता मौके पर पहुंचा और युवाओं को मार्ग से हटने की चेतावनी दी लेकिन चेतावनी को अनदेखा करते हुए सड़कों के अलावा पहाडिय़ो ंपर चढ़े युवाओं ने पथराव प्रारंभ कर दिया। पत्थरबाजी में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गणपित महावर, बिछीवाड़ा थाना प्रभारी सहित कई पुलिसकर्मी घायल हो गए जिसकी सूचना जिला मुख्यालय व राज मुख्यालय को मिलते ही विभिन्न थानों से थाना प्रभारी मय जाप्ते के मौके पर रवाना हुए। इस दौरान वाहनों में तोडफ़ोड़ कर दी गई व उन्हें आग के हवाले कर दिया गया।

प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े लेकिन पहाडिय़ों से आने वाले पत्थरों से हालत पर काबू पाना मुश्किल हो गया। इधर हाईवे जाम को देखते हुए उदयपुर की ओर से आने वाले वाहनों को मोतली मोड़ से डूंगरपुर के रास्ते अहमदाबाद भेजा जा रहा है। वहीं अहमदाबाद से आने वाले वाहन बिछीवाड़ा डूंगरपुर होकर मोतली मोड़ से उदयपुर की ओर जा रहे हैं। इधर घायल पुलिस कर्मियों को सामान्य चिकित्सालय लाया गया। जहां इलाज किया गया।


Share